मुंबईः देश में 24 मार्च से चल रहे लॉकडाउन के कारण देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे लोग पिछले दो महीनों से परेशान चल रहे थे. ऐसे में लॉकडाउन के बीच सरकार ने ट्रेन चलाने का फैसला लिया है. ताकि, अपने घर परिवार से दूर फंसे लोग अपने घर जा सकें. भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने बीते बुधवार को ही 100 जोड़ी पैसेंजर ट्रेन की लिस्ट जारी की है, जो 1 जून से देश के अलग-अलग हिस्सों में चलेंगी. भारतीय रेलवे ने जिन ट्रेनों की लिस्ट जारी की है, उनमें दूरंतो, जन शताब्दी जैसी ट्रेनें भी शामिल हैं. इन ट्रेनों की बुकिंग 10 बजे से ऑनलाइन की जा सकेगी. तो अगर आप भी यात्रा का विचार बना रहे हैं और ट्रेन टिकट बुक करने जा रहे हैं तो इससे पहले केंसेलेशन संबंधित नियम जरूर जान लें.Also Read - RRB NTPC CBT 2 Revised Exam Dates 2022: रेलवे ने उम्मीदवारों से कहा-गुमराह न हों, फरवरी 15-19 से दूसरे चरण की परीक्षा की तैयारी करें

दरअसल, एजेंटों का कहना है कि, लॉकडाउन के दौरान रद्द हुई ट्रेनों का रिफंड उन्हें अभी तक नहीं मिला है. एजेंटों के मुताबिक, रेलवे से लगातार अपील करने के बाद भी उनकी समस्या हल नहीं हो रही है. हालांकि, मामले पर आईआरसीटीसी का कहना है कि प्रिंसिपल एजेंट्स के अकाउंट में पहले ही पैसे रिफंड किए जा चुके हैं और अन्य एजेंटों का भी रिफंड करने की प्रक्रिया जारी है. वहीं टिकट खिड़की से बुक किए गए टिकट्स का रिफंड रेलवे देगी. Also Read - Indian Railways/IRCTC: भारतीय रेलवे ने आज कैंसिल कर दी हैं 1155 ट्रेनें, ज्यादातर बिहार-यूपी की, देखें वेबसाइट

वहीं 1 जून से रेलवे द्वारा शुरू की जा रही इन ट्रेनों में बुकिंग और टिकट कैंसेलेशन संबंधित नियमों में भी रेलवे ने बदलाव किए हैं. ऐसे में अगर आप भी ट्रेनों में सफर करने जा रहे हैं तो टिकट रिफंड के नियम जान लेना जरूरी है. दरअसल, इन ट्रेनों में अगर किसी व्यक्ति ने टिकट बुक कराई है और यात्रा का प्लान रद्द हो गया तो व्यक्ति को ट्रेन चलने से कम से कम 24 घंटे पहले टिकट रद्द कराना जरूरी होगा. बता दें टिकट रद्द कराने पर यात्रियों का सिर्फ 50 फीसदी पैसा ही रिफंड किया जाएगा. Also Read - देश के पहाड़ी राज्यों में भारी बर्फबारी- रेलवे ने शेयर की कालका-शिमला रूट की तस्वीरें- Photos देख रोमांचित हो जाएंगे आप

रेल मंत्री पीयूष गोयल गुरुवार को बताया था खि, शुक्रवार से ट्रेन टिकटों की बुकिंग देशभर में शुरू हो जाएगी. देश के लगभग 1.7 लाख कॉमन सर्विस सेंटर पर इन ट्रेनों के लिए टिकट बुक की जा सकेगी. यही नहीं, अगले दो-तीन दिनों में कुछ गिने-चुने रेलवे स्टेशनों पर भी टिकट रिजर्वेशन काउंटर शुरू किए जा सकेंगे. कोरोना वायरस के चलते इस संबंध में प्रोटोकॉल तैयार किया जा रहा है. बता दें अब तक 1,49,025 टिकटें बुक की जा चुकी हैं.