रामेश्वरम: कच्चातीवू द्वीप के पास रविवार को मछलियां पकड़ रहे तमिलनाडु के 3000 से अधिक मछुआरों को श्रीलंका की नौसेना ने वहां से खदेड़ दिया. मछुआरा संघ के नेता ने यह जानकारी दी. नौसैनिकों ने मछुआरों के कई नौकाओं के जाल भी फाड़ डाले.

तमिलनाडु राज्य मछुआरा संघ के अध्यक्ष एन देवदास ने बताया कि रामेश्वरम के मछुआरे 500 से अधिक नौकाओं में सवार होकर समुद्र में गए थे तथा वे कच्चातीवू के छोटे द्वीप के समीप मछलियां पकड़ रहे थे, उसी बीच श्रीलंका के नौसैनिक आए और उन्होंने उनके जाल फाड़ डाले एवं उन्हें वहां से भगा दिया.

देवदास ने आरोप लगाया कि श्रीलंका के नौसैनिकों ने करीब 50 नौकाओं के मछली पकड़ने वाले जाल काट डाले एवं उपकरणों को नुकसान पहुंचाया. नौसैनिकों ने मछुआरों को वहां से लौटने के लिए बाध्य कर दिया. मछुआरा संघ के अध्यक्ष ने केंद्र और राज्य सरकारों से तमिलनाडु के मछुआरों पर बार-बार हो रहे हमले का विषय श्रीलंका सरकार के सामने उठाने की अपील की. शनिवार को तमिलनाडु के आठ मछुआरों को श्रीलंका की नौसेना ने उनके समुद्री क्षेत्र में कथित रूप से मछलियां पकड़ने को लेकर गिरफ्तार किया था.