लखनऊ: अयोध्या विवाद मामले में सुलह की राह तलाश रहे आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने कहा बातचीत से नतीजा अच्छा निकलेगा. उन्होंने कहा ऐसा इसलिए संभव हो रहा है कि इस मामले को लेकर देशभर से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है. श्री श्री रविशंकर कहा कि बड़ा काम है, चार-छह महीने से प्रयास चल रहा है. Also Read - Ayodhya में ट्रस्‍ट ने राम मंदिर से लगी जमीन खरीदी, 107 एकड़ का परिसर बनाने का प्‍लान

Also Read - राम मंदिर निर्माण के लिए अब तक जमा हुए 2,100 करोड़ रुपये, जारी है धन जुटाने का अभियान

श्री श्री रविशंकर वाराणसी में सांस्कृतिक संकुल के एक कार्यक्रम में पहुंचे थे. जहां पर उन्होंने कहा कि बातचीत सही दिशा में हो रही है, जिसका अच्छा नतीजा निकलेगा. उन्होंने कहा की यह एक बड़ा काम है लेकिन प्रयास चल रहा है. शुरुआती परिणाम आशा के मुताबिक ही है. इस मामले में लोगों की ओर से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है. Also Read - Mulayam Singh Yadav की बहू Aparna Yadav ने राम मंदिर के लिए 11 लाख रुपए दान में दिए, फैमिली को लेकर दिया बड़ा बयान

Holi 2018: जानें होली और होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

Holi 2018: जानें होली और होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

उन्होंने आगे कहा कि इस मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट अपना फैसला दे चुका है. हम सौहार्द के मार्ग पर आगे बढ़ेंगे, ताकि हमेशा के लिए समस्या हल हो जाए. रविशंकर ने बताया कि इस मामले को पटरी पर लाने के लिए सभी संतों से सलाह लेंगे और समाज में धर्म की स्थापना कैसे हो, इस पर विचार करेंगे.

गौरतलब हो कि मौलाना सलमान नदवी ने अध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद नदवी ने बाबरी मस्जिद को किसी दूसरी जगह पर शिफ्ट करने की वकालत की थी. नदवी ने कहा था कि विवादित जगह को राम मंदिर के लिए छोड़ देना चाहिए. इसी रुख के बाद से वह लगातार अपने ही समुदाय के नेताओं के निशाने पर आ गए थे. (इनपुट-आईएएनएस)