श्रीनगर, 19 सितम्बर। जम्मू एवं कश्मीर के उरी में रविवार को सेना के आधार शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के बावजूद श्रीनगर और मुजफ्फराबाद के बीच शांति बस सेवा का परिचालन जारी है। ‘कारवां-ए-अमन’ नाम से मशहूर इस बस सेवा का सोमवार को भी संचालन किया गया। भारी सुरक्षा के बीच इस बस सेवा का परिचालन विभाजित कश्मीर के दोनों हिस्सों के परिवारों व रिश्तेदारों को आपस में मिलवाने के लिए किया जाता है।Also Read - सर्जिकल स्ट्राइक से पहले पर्रिकर ने कहीं थीं दो बातें और 10 दिन के अंदर दिया पाकिस्तान मुंह तोड़ जवाब : दुआ

Also Read - लेफ्टि. जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा ने किया साफ- मैंने कांग्रेस नहीं ज्वाइन की

राज्य सड़क परिवहन निगम (एसआरटीसी) द्वारा संचालित बस एकमात्र नागरिक परिवहन है, जिसे रविवार को हुए उड़ी हमले के बाद पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जाने की अनुमति दी गई। यह भी पढ़े-उरी हमला: अक्षय कुमार ने कहा अब बहुत हो गया, इन आतंकवादियों को रोकना चाहिए Also Read - कुख्यात आतंकी मसूज अजहर को है लाइलाज बीमारी, 2 साल से पड़ा है बिस्तर पर

उड़ी में रविवार सुबह सेना के आधार शिविर पर हुए फिदायीन हमले में 17 जवान शहीद हो गए, जबकि 30 अन्य घायल हो गए।