मुंबई: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग मामले की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार शौविक चक्रवर्ती और सैमुअल मिरांडा को मेडिकल जांच के लिए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) शनिवार की सुबह एक सरकारी अस्पताल लेकर गई. इन सभी लोगों का यहां कोरोना टेस्ट भी कराया जाएगा. एनसीबी के एक अधिकारी ने बताया कि जांच के बाद दोनों को स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा.Also Read - Coronavirus cases In India: कोरोना से मरने वालों की संख्या में इजाफा, एक दिन में 443 लोगों की हुई मौत

शौविक, राजपूत की मौत के मामले में मुख्य आरोपी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती का भाई है जबकि मिरांडा दिवंगत अभिनेता का हाउस मैनेजर था. शौविक और मिरांडा को शुक्रवार को 10 घंटे की पूछताछ के बाद मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने एनडीपीएस कानून (स्वापक औषधि और मन:प्रभावी कानून) के तहत गिरफ्तार किया था. Also Read - समीर वानखेड़े ने मुंबई पुलिस कमिश्‍नर को लिखा पत्र, मुझे गलत उद्देश्यों से फंसाने के लिए कोई कानूनी कार्रवाई न की जाए

Also Read - नवाब मलिक ने फिर समीर वानखेड़े पर हमला बोला- जब से NCB में आए हैं, वे पहले ही दिन से फिल्म इंडस्‍ट्री को टारगेट कर रहे

अधिकारी ने बताया, ‘‘एनसीबी की टीम मेडिकल जांच की औपचारिकता के लिए शनिवार की सुबह करीब सवा नौ बजे दोनों आरोपियों को स्थानीय निकाय द्वारा संचालित सायन अस्पताल लेकर गयी है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘प्रक्रिया पूरी होने के बाद उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा.’’

एनसीबी ने इस मामले में शौविक और मिरांडा के अलावा जैद विलात्रा (21) और अब्दुल बासित परिहार (23) को भी गिरफ्तार किया है. सभी एनसीबी की हिरासत में हैं. रिया चक्रवर्ती के दो मोबाइल फोन की क्लोनिंग की सूचना प्रवर्तन निदेशालय से मिलने के बाद एजेंसी एनडीपीएस कानून के आपराधिक प्रावधानों के तहत इसकी जांच कर रही है.

राजपूत की मौत से जुड़े विभिन्न पहलुओं की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), सीबीआई और एनसीबी द्वारा की जा रही है. राजपूत का शव 14 जून को उनके बांद्रा स्थित अपार्टमेंट से मिला था.