केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास अब भी कोविड-19 टीके की 90 लाख से अधिक खुराक हैं और सात लाख से अधिक खुराक आगामी तीन दिन में उन्हें वितरित की जाएंगी. Also Read - राज्यों में शुरू हुआ Unlock कहीं तीसरी लहर को न दे दे दावत! दिसंबर 2021 तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियों के पक्ष में एक्सपर्ट्स

मंत्रालय ने बताया कि केंद्र ने राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को अब तक 18 करोड़ से अधिक (18,00,03,160) खुराक नि:शुल्क दी हैं, जिनमें से 17,09,71,429 करोड़ खुराकों की खपत हो चुकी है. Also Read - केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन के कारण देश में पहली मौत की पुष्टि की- जानें समिति ने अपनी रिपोर्ट में क्या कहा...

उसने कहा, ‘‘राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के पास 90 लाख से अधिक खुराक (90,31,691) अब भी हैं.’’ Also Read - Covishield Vaccine Update: कोविशील्ड वैक्सीन की 2 डोज के बीच क्या फिर घटाया जाएगा अंतराल? जानें सरकार का जवाब...

उसने कहा कि जिन राज्यों ने कम आपूर्ति दिखाई है, वे टीकों की आपूर्ति की तुलना में अधिक खपत दिखा रहे हैं, जिनमें बर्बाद हुई खुराक भी शामिल हैं. इसका कारण यह है कि उन्होंने ‘‘सशस्त्र बलों को मुहैया कराए गए टीकों को शामिल नहीं किया है’’.

मंत्रालय ने बताया कि आगामी तीन दिन में राज्यों, केंद्रशासित प्रदेशों को 7,29,610 और खुराक दी जाएंगी.

उसने बताया कि भारत सरकार राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को कोविड-19 टीका नि:शुल्क मुहैया कराके राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम में मदद कर रही है.

कोविड- 19 टीकाकरण की ‘उदारीकृत और त्वरित चरण तीन रणनीति’ एक मई, 2021 से शुरू हो गई है.

रणनीति में यह स्पष्ट किया गया है कि केंद्र सरकार हर महीने केंद्रीय औषधि प्रयोगशाला द्वारा स्वीकृत टीकों की खुराक का 50 प्रतिशत ही खरीदेगी और इन्हें राज्य सरकारों को पहले की तरह नि:शुल्क मुहैया कराया जाएगा.