नई दिल्लीः नागरिककत संशोधन विधेयक को लेकर पूर्वी उत्तर भारत में जोरदार प्रदर्शन किया जा रहा है. कई स्थानों पर इसके विरोध में आगजनी और पत्थरबाजी की खबरे आई हैं. इस विधेयक का सबसे ज्यादा विरोध प्रदर्शन असम में देखा जा रहा है. प्रदर्शन कर्मियों ने जगह जगह पर दुकाने तोड़ी और सड़को को जाम कर रखा.

बिल के विरोध में डिब्रूगढ़ स्थित लाखीनगर में राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (Sarbananda Sonowal) के घर पर पथराव किया गया है. इसके अलावा बिल का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी विधायक प्रशांता पुखान और पार्टी नेता सुभाष दत्ता के घर पर भी तोड़फोड़ की.

विरोध का बढ़ता देख प्रशासन ने अनिश्चितकाल के लिए गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ में कर्फ्यू लगा दिया है और इसके साथी किसी भी अप्रीय घटना से बचने के लिए भारी मात्रा में सेना को तैनात किया गया है. असम में कई एयरलाइंस ने फ्लाइट्स को रद्द कर दिया है. असम के 10 जिलों में धारा 144 लागू है. विरोध प्रदर्शन के कारण स्पाइस जेट ने अपनी उड़ाने रद्द कर दी हैं. कंपनी ने कहा कि फ्लाइट कैंसिल होने के कारण यात्रियों को बाद में पैसे लौटा दिए जाएंगे.

स्पाइस जेट के साथ ही विस्तारा एयरलाइंस ने भी अपनी कई उड़ाने रद्द की है और कंपनी ने इसके लिए असम के हालात को जिम्मेदार ठहराया है. बता दें नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ अभूतपूर्व प्रदर्शन के बाद बुधवार की शाम गुवाहाटी में कर्फ्यू लगा दिया गया. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कामरूप जिला प्रशासन द्वारा गुवाहाटी में कर्फ्यू लगा दिया गया.

बता दें कि असाम में छात्र संगठनों के माध्यम से प्रदर्शन किए जा रहे है. प्रसाशन अलर्ट पर है. प्रदेश के लगभग 10 जिलों में कर्फ्यू लगाया है और कल तक के लिए एयरलाइंस सर्विस पूरी तरह से बंद हैं, नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 बुधवार को राज्यसभा में पारित हो गया. यह विधेयक लोकसभा में पहले ही पारित हो चुका है. राज्यसभा में विधेयक के पक्ष में 125 जबकि विपक्ष में 105 वोट पड़े.