नई दिल्ली: दिल्ली के सरकारी स्कूलों में छात्रों को ‘महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार न करें’ का पाठ पढ़ाया जाएगा. विपरीत लिंग के साथ ठीक से व्यवहार करने की शपथ उन्हें दिलाई जाएगी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को इस बात की घोषणा की. मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि स्कूलों में ‘महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार न करें’ का पाठ पढ़ाया जाएगा. उन्होंने जोर देकर कहा कि परिवार की महिलाओं को भी चाहिए कि वह भी इस तरह की बातें अपने बच्चों को सिखाएं.

केजरीवाल ने कहा, “हमने फैसला किया है कि सभी स्कूलों में छात्रों को शपथ दिलाएंगे कि वे कभी किसी लड़की के साथ दुर्व्यवहार नहीं करेंगे.” इस महीने की शुरुआत में दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल ने कहा था कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों के लिए केवल सरकार और पुलिस को दोष देना उचित नहीं है.

केजरीवाल ने शिक्षा मंत्री से इस बाबत ध्यान दने को कहते हुए कहा, “पुरुषों और लड़कों की मानसिकता को क्या हो गया है, इसको भी हमें देखना चाहिए. युवा लड़के संवेदनशील बनें, इसके लिए दिल्ली के स्कूलों को कुछ करना होगा. सिर्फ पुलिस और सरकार यह नहीं कर सकती है. समाज को बदलना होगा.”