सूरत: गुजरात के सूरत शहर में शुक्रवार को एक इमारत में भीषण आग लग गई. एक वाणिज्यिक परिसर में शुक्रवार दोपहर आग लगने के बाद एक ‘कोचिंग क्लास’ के छात्रों ने इमारत से कूदना शुरू कर दिया, जिससे करीब 15 बच्चों की मौत हो गई. अधिकारियों ने बताया कि तक्षशिला परिसर की तीसरी और चौथी मंजिल पर आग लग गई थी. उन्होंने बताया कि हादसे में किसी के हताहत होने की अभी पुष्टि नहीं की गई है. उधर, हादसे को लेकर पीएम मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया है. साथ ही गुजरात सरकार और स्थानीय अधिकारियों से प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए कहा है.

 

टीवी चैनलों पर दिखाई जा रही वीडियो में छात्र इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल से कूदते नजर आ रहे हैं. अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 19 दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और आग पर काबू पाने के लिए दो हाइड्रोलिक प्लेटफार्म भी बनाए गए हैं. स्थानीय लोग भी बचाव अभियान में अधिकारियों की मदद कर रहे हैं.

 

दमकल अधिकारी ने बताया कि छात्रों ने आग से बचने के लिए तीसरी और चौथी मंजिल से कूदना शुरू कर दिया था. कई बच्चों को बचाकर अस्पताल पहुंचाया गया है. आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है.

 

पीएम मोदी ने गुजरात सरकार को हर संभव मदद पहुंचाने को कहा
हादसे को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा कि सूरत में आग त्रासदी से बेहद दुखी हैं, उनकी संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ है. उन्होंने हादसे के घायल के जल्दी ठीक होने की कामना की. इसके साथ ही पीएम मोदी ने गुजरात सरकार और स्थानीय अधिकारियों से प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए कहा है. (इनपुट एजेंसी)