डॉ. कफील खान की रिहाई की मांग कर रहे थे छात्र, पुलिस ने हिरासत में लिया

दिल्ली पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश भवन की ओर मार्च निकालते हुए राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

Updated: February 20, 2020 3:33 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Zeeshan Akhtar

डॉ. कफील खान की रिहाई की मांग कर रहे थे छात्र, पुलिस ने हिरासत में लिया
भड़काऊ भाषण देने के मामले में मथुरा जेल में बंद थे डॉ. कफील खान। (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान (Dr. Kafeel Khan) और उलेमा काउंसिल के राष्ट्रीय महासचिव ताहिर मदनी की रिहाई की मांग करते हुए यहां उत्तर प्रदेश भवन की ओर मार्च निकाल रहे छात्रों के एक समूह को गुरूवार को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया.

Also Read:

मदनी को पांच फरवरी को आजमगढ़ में इस आरोप में गिरफ्तार किया गया था कि वह संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) विरोधी जिन प्रदर्शनकारियों की अगुवाई कर रहे थे, उन्होंने हिंदुओं तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया. वहीं, कफील खान को संशोधित नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ 12 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (Aligarh Muslim University) में प्रदर्शन के दौरान दिए गए भाषण में धर्मों के बीच कथित रूप से शत्रुता को बढ़ावा देने के आरोप में पकड़ा गया था.

गोरखपुर कांड: डॉ. कफील को क्लीन चिट, योगी सरकार ने भी माना- बच्चों के लिए की थी ऑक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के अधिकारियों ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश भवन की ओर मार्च निकालते हुए राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. उन्हें हिरासत में लिया गया और मंदिर मार्ग थाने ले जाया गया. हालांकि एक अन्य समूह सीएए और एनआरसी के खिलाफ पोस्टर लेकर उत्तर प्रदेश भवन के पास पहुंच गया. पुलिस के मुताबिक उन्हें भी हिरासत में ले लिया गया और पास के थाने में ले जाया गया.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: February 20, 2020 3:31 PM IST

Updated Date: February 20, 2020 3:33 PM IST