Also Read - सुभाष चंद्रा फाउंडेशन ने नागरिकों को सशक्त बनाने के लिए लॉन्च किया 'देश का सच' पिटीशन प्लेटफॉर्म

नई दिल्ली: अगर आप देश की मुश्किल सामाजिक चुनौतियों को हल करने के इच्छुक हैं, तो यह खबर आपके लिए ही है. आपके पास सुभाष चंद्रा फाउंडेशन के ‘सच इंपैक्ट’ से जुड़ने का सुनहरा मौका है. फाउंडेशन सभी सामाजिक उद्यमियों को आमंत्रित करता है. ये सामाजिक उद्यमी खेती, शिक्षा, स्वास्थ्य, लाइवलीहुड, क्लीन ऊर्जा, जल प्रबंधन, कूड़ा व प्रदूषण नियंत्रण या दिव्यांगों के लिए कार्य करने वाले हो सकते हैं. Also Read - योग दिवस पर दुनिया को YO1 की सौगात, पीएम बोले- योग एक दर्शन है

दरअसल, सुभाष चंद्रा फाउंडेशन ने सच इंपैक्ट इनक्यूबेटर लॉन्च किया है. यह ऐसा प्रोग्राम है जो लाखों भारतीयों की समस्याओं को हल करने के इच्छुक सामाजिक उद्यमियों को सहायता प्रदान करता है. देश के विभिन्न हिस्सों से सामाजिक उद्यमियों की पहचान करके उनका मार्गदर्शन करने के लिए सच इंपैक्ट अपने आप में अनोखी पहल है. इसे LetsEndorse के पार्टनरशिप में संचालित किया जा रहा है. Also Read - Dr. Subhash chandra named ‘Entrepreneur of the Decade’ | 'एंटरप्रेन्योर ऑफ द डिकेड' पुरस्‍कार से सम्मानित हुए राज्यसभा सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा

आप अपनी जानकारी नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके साझा करके इस अभियान में भाग ले सकते हैं:
http://www.subhashchandrafoundation.org/apply-now-sach-impact/

Sach-impact

 

SACH_Impact इंक्युबेटर 8-10 सामाजिक उद्यमियों का साल में दो बार, यानी वर्ष में कुल 16-20 उद्यमियों का मार्गदर्शन करेगा. ये सत्र छह-छह माह के होंगे. ये लाभकारी या गैर-लाभकारी दोनों तरह के संस्थानों से हो सकते हैं. चयनित टीमों को राज्यसभा सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा, ZEEL के एमडी और सीईओ पुनीत गोयनका और ZEEL के इंटरनेशनल ब्रॉडकास्ट बिजनेस सीईओ अमित गोयनका मार्गदर्शन प्रदान करेंगे.

LetsEndorse की सह-संस्थापक और सीईओ मोनिका शुक्ला का कहना है, “इनक्यूबेटर सामाजिक उद्यमियों के लिए बहुत ही बड़ा अवसर है ताकि व्यापक नेटवर्क से बहु-भौगोलिक भागों की वास्तविक परिस्थितियों में उनके विचारों का परीक्षण किया जा सके. इस व्यापक नेटवर्क की पेशकश LetsEndorse द्वारा की गई है.”

सुभाष चंद्रा फाउंडेशन का परिचय
सुभाष चंद्रा फाउंडेशन एस्सेल ग्रुप की लोकोपकारी शाखा है जिसे समृद्ध समाज के लिए विचारों को साझा करने, योगदान देने और सहयोग प्रदान करने के उद्देश्य से स्थापित किया गया है – एक ऐसा तरीका जिससे समुदायों का समावेशी विकास और उत्थान किया जा सके. फाउंडेशन का उद्देश्य मुख्यधारा से लेकर कमजोर क्षेत्र के लिए सहायता मॉडल बनाने में मदद करना है.