NEET-JEE EXAM: देश में एक तरफ कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर तबाही मची है तो वहीं दूसरी तरफ जेईई-नीट की परीक्षा को लेकर बवाल मचा है. सरकार हर हाल में परीक्षा लेने की बात कर रही है तो वहीं  लाखों छात्रों के सामने नीट और जेईई की परीक्षा देने का संकट दिख रहा है. इस बीच भाजपा  नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अजब-गजब सा ट्वीट किया है और ट्वीट में छात्रों की तुलना द्रौपदी, मुख्यमंत्रियों की तुलना कृष्ण से की है और खुद को विदुर बताया है. Also Read - NEET-JEE की परीक्षा पर मचा है बवाल, पूर्व केंद्रीय शिक्षा सचिव ने कहा-कोई दूसरा विकल्प नहीं

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा कि आज नीट और जेईई परीक्षा के मामले में, क्या छात्रों को द्रौपदी जैसे अपमानित किया जा रहा है? सीएम कृष्ण की भूमिका निभा सकते हैं, एक छात्र के रूप में और फिर 60 सालों तक प्रोफेसर के तौर पर मेरा अनुभव बताता है कि कुछ गलत होने वाला है. मुझे विदुर जैसा महसूस होता है.

इससे पहले सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा था कि जब 11 राज्य नीट और जेईई की परीक्षा कराने का विरोध कर चुके हैं तो सुप्रीम कोर्ट जाने की जरुरत क्या है. उन्होंने कहा कि क्या राज्य के मुख्यमंत्रियों के पास कोई ताकत नहीं है. बता दें कि कुछ राज्य सरकारें सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने पर विचार कर रही हैं.

बता दें कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नीट और जेईई परीक्षा को लेकर सात गैर भाजपा मुख्यमंत्रियों की एक बैठक बुलाई थी. इस बैठक में यह फैसला लिया गया था कि नीट और जेईई परीक्षाओं के खिलाफ गैर भाजपा शासित राज्यों के सीएम सुप्रीम कोर्ट जाएंगे और केंद्र के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देंगे.