Super Cyclone Amphan: 20 मई के दिन पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भारी तबाही मचाने के बाद अम्फान तूफान अब बिहार की तरफ मुड़ चुका है. लेकिन हम बिहार की बात नहीं बल्कि अम्फान तूफान द्वारा बंगाल और ओडिशा में मचाए गए तबाही की बात करने वाले हैं. सिटी ऑफ जॉय के नाम से मशहूर कोलकाता शहर (पश्चिम बंगाल) कल के दिन खुश नहीं रहा. क्योंकि कल आए तूफान का विकराल मंजर आज साफ साफ देखने को मिल रहा है. पूरा शहर मानों राख पर बैठा है. सभी जगहों पर पेड़ पौधे टूट कर गिरे हुए हैं. Also Read - Swiggy झारखंड और ओड़िशा के बाद अब इस राज्य में करेगी शराब की होम डिलीवरी, कंपनी ने बताई ये वजह  

कहीं बसों पर पेड़ गिरकर उन्हें चकनाचूर कर चुके हैं, कहीं बारिश के कारण गर्मी के मौसम में बाढ़ जैसे हालात है. कहीं किसी मकान का छत ही उड़ रहा है तो वहीं कोलकाता की शान हावड़ा ब्रिज पर भी इसका असर दिखाई दिया. बता दें कि फिलहाल पश्चिम बंगाल के कई प्रमुख जिलों में बिजली गुल है क्योंकि बीती रात तूफान के दौरान बिजली के तारों के आपस में टकराने के कारण खूब विस्फोट हुआ. ऐसा लग रहा था मानों लोग एक जगह इकट्ठे होकर आग से या फिर पटाखों से खेल रहे हों. सोशल मीडिया पर ये सभी वीडियो खूब वायरल हो रही हैं. Also Read - Cyclone West Bengal: अम्फान तूफान की वजह से बेघर हुआ भारतीय फुटबॉलर, खाने तक के पैसे नहीं

यही नहीं तूफान के कारण माल से ज्यादा जान की क्षति बंगाल को हुई है. यहां 10-12 लोगों की तूफान की चपेट में आने के कारण मारे जाने की खबर है, वहीं ओडिशा में इससे 3 लोगों की मौत हुई है. बता दें कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल दोनों ही जगहों पर तूफान की रफ्तार 130-180 किलोमीटर प्रतिघंटा थी. इस बाबत मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि ऐसा तूफान इससे पहले 283 साल पहले यानी 1737 में आया था.

दोनों राज्यों के लोगों की माने तो उन्होंने ऐसा तूफान पूरे जीवन में अबतक नहीं देखा था. तूफान में ऐसा लग रहा था मानों धरती पर मौजूद हर कुछ तूफान अपने सा उखाड़कर अपने साथ लेकर चला जाएगा. कुछ ही घंटों में दोनों राज्यों में लोगों ने कयामत को बेहद करीबी से देखा है. हर जगह अस्त व्यस्त जीवन, कहीं पेड़ों की डालियां तो कहीं पानी हर जगह यही मंजर फैला हुआ है. इनकी तस्वीरें भी इस तूफान की सच्चाई को बयां करने के लिए काफी हैं. बता दें कि फिलहाल NDRF की टीमें हालात को सुधारने और जनजीवन को सामान्य बनाने में लगी हुई हैं.