Dharma Sansad in Haridwar: हरिद्वार धर्म संसद विवाद का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, CJI ने कहा- केस की सुनवाई करेंगे

हरिद्वार में आयोजित 'धर्म संसद' (Dharma Sansad Haridwar) के दौरान दिए गए कथित नफरती भाषण ( hate speech) का मामला अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंच गया है.

Updated: January 10, 2022 12:41 PM IST

By Nitesh Srivastava

Dharam Sansad

Dharma Sansad in Haridwar:  हरिद्वार में आयोजित ‘धर्म संसद’ (Dharma Sansad Haridwar) के दौरान दिए गए कथित नफरती भाषण (Hate speech) का मामला अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंच गया है. चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एनवी रमणा (CJI NV Raman) केस की सुनवाई के लिए तैयार हो गए हैं. इस मामले को लेकर कांग्रेस के नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल (Kapil Sibbal) ने याचिका दायर की थी. जिस पर CJI ने सुनवाई पर सहमति जताई है. सीजेआई ने पूछा कि क्या इस मामले की जांच पहले नहीं हुई हैं, इस पर सिब्बल ने जवाब दिया कि सिर्फ FIR दर्ज हुई लेकिन न कोई कार्रवाई हुई और न ही किसी की गिरफ्तारी हुई है.

Also Read:

याचिका में मुस्लिमों के खिलाफ नफरती भाषण की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग की गई है. बताते चलें कि पिछले महीने हरिद्वार में आयोजित इस कार्यक्रम में कुछ हिंदू धर्मगुरुओं द्वारा लोगों से मुसलमानों के खिलाफ हथियार उठाने और नरसंहार का आह्वान किया गया था, जिस पर विवाद गरमा गया था.

हरिद्वार में यह विवादित कार्यक्रम तीन दिनों तक चला था, मामला प्रकाश में तब आया जब इससे जुड़े वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे. इन भाषणों की भाषा पर तमाम लोगों द्वारा आपत्ति जताई गई साथ ही सरकार से कार्रवाई की मांग भी की गई. विपक्ष ने सवाल उठाए कि सिर्फ औपचारिकता के लिए शिकायत दर्ज की गई है, कार्रवाई के नाम कोई खास कदम नहीं उठाए गए.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 10, 2022 11:37 AM IST

Updated Date: January 10, 2022 12:41 PM IST