Supreme Court on Coronavirus: देश में कोरोना का कहर जारी है. भारत में कोविड-19 (Covid-19) से अब तक 91 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 1 लाख 33 हजार से ज्यादा की जान जा चुकी है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में कोरोना मामलों को लेकर सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कोरोना के हालात पर चिंता जताई और दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र और असम में तेजी से बढ़ रहे कोविड मामलों के प्रबंधन, मरीजों को सुविधा समेत अन्य व्यवस्थाओं पर स्टेटस रिपोर्ट दो दिन में मांगी है. सुनवाई के दौरान जस्टिस अशोक भूषण ने कहा कि दिल्ली में हालात बदतर हो गए हैं. हम चाहते ह़ै कि सरकार ने क्या व्यवस्था की है, उस पर विस्तार से हलफनामा दाखिल किया जाए. Also Read - COVID-19 Vaccination Drive: वैक्सीन का इंतजार हुआ खत्म, दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए देश तैयार

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम सुन रहे हैं कि इस महीने कई राज्यों में केस में लगातार बढोतरी हुई है. हम सभी राज्यों से एक ताजा स्टेटस रिपोर्ट चाहते हैं. अगर राज्य अच्छी तरह से तैयारी नहीं करते तो दिसंबर में इससे भी बदतर नतीजें हो सकते हैं.

उधर, सोमवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry Of Health) की तरफ से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 44,059 नए मामले सामने आए और इस दौरान 511 लोगों की मौत हो गई.

इसके साथ ही देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 91,39,866 पहुंच गया है वहीं, अब तक 1,33,738 लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में कोरोना के एक्टिव मामलों में लगातार कमी आ रही है और फिलहाल यह 4 लाख से काफी नीचे पहुंच गया है. देश में अभी कोरोना के 4,43,486 एक्टिव केस हैं, वहीं, 85,62,642 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी मिल चुकी है. वहीं, बीते 24 घंटे में कोरोना से 41,024 मरीज ठीक हुए हैं.

दुनियाभर में 13 लाख 80 हजार से अधिक मौत
उधर, दुनिया भर में कोरोना वायरस से 13 लाख 80 हजार से ज्यादा की जान जा चुकी है, वहीं संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 5 करोड़ 81 लाख से ज्यादा हो गई है. अमेरिका दुनियाभर में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देश हैं. सिर्फ अमेरिका में ही कोरोना के कहर से अब तक करीब 2 लाख 56 हजार लोगों की जान जा चुकी है और लगभग 1 करोड़ 21 लाख लोग संक्रमित हैं.

पीएम मोदी करेंगे बैठक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोविड-19 की वर्तमान स्थिति की समीक्षा और टीका वितरण की रणनीति को लेकर मुख्यमंत्रियों और राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के अन्य प्रतिनिधियों के साथ मंगलवार को डिजिटल माध्यम से बैठक कर सकते हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, मोदी एक बैठक उन आठ राज्यों के साथ बैठक कर सकते हैं जहां कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहे हैं. दूसरी बैठक में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से टीका वितरण की रणनीति पर चर्चा संभावित है. प्रधानमंत्री मोदी कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए अब तक कई बार राज्यों साथ बैठकें कर चुके हैं.