Supreme Court Verdict on UGC Guidelines: देश के विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित किए जाने का रास्ता साफ हो गया है. सुप्रीम कोर्ट ने 30 सितंबर तक परीक्षा कराने के UGC के सर्कुलर को सही ठहराया है. इस बारे में एक याचिका पर सुनवाई के करते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि राज्य सरकारें कोरोना संकट काल में अपने से एग्जाम नहीं कराने का फैसला नहीं कर सकतीं. Also Read - प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए पर्याप्त नियमन मौजूद, डिजिटल मीडिया का नियमन पहले हो: केंद्र

अदालत ने कहा कि जिन राज्यों को कोरोना संकट काल में एग्जाम कराने में दिक्कत है वो UGC के पास एग्जाम टालने की एप्लीकेशन दे सकते हैं. Also Read - सुप्रीम कोर्ट ने टीवी शो पर लगाई फटकार, कहा- अन्य नागरिक के जैसा है पत्रकार, अमेरिका की तरह कोई अलग से स्वतंत्रता नहीं

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने विश्वविद्यालयों एवं अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों में स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष या सेमेस्टर की परीक्षाओं को 30 सितंबर तक करा लेने के यूजीसी निर्देश को चुनौती देनी वाली याचिकाओं पर 18 अगस्त को सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रख लिया था. Also Read - अरविंद केजरीवाल ने दिया आश्वासन- दिल्ली में नहीं हटाई जाएंगी 48,000 झुग्गियां, पहले मिलेगा पक्का घर