नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट में राफेल सौदे को लेकर दाखिल सभी याचिकाओं के खारिज होने के बाद भाजपा ने विपक्षी कांग्रेस और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी पर करारा प्रहार किया है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के कुछ ही देर बाद प्रेस कांफ्रेंस कर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि आज सत्य की जीत हुई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब तक जनता को गुमराह किया था.

उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला झूठी राजनीति को तमाचा जैसा है. कांग्रेस ने झूठे आरोप की राजनीति की और राफेल सौदे को लेकर मोदी सरकार पर तथ्यहीन आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश की सुरक्षा को खतरे में डालने की कोशिश की. आज कांग्रेस पार्टी और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी को देश की सेना और जनता से हाथ जोड़कर माफी मांगनी चाहिए.

राफेल डील पर लोकसभा में हंगामा, राहुल से माफी की मांग, अनिल अंबानी ने किया फैसले का स्वागत

अमित शाह ने कहा कि राफेल की कीमत को सुप्रीम कोर्ट ने सही बताया है. देश की शीर्ष अदालत ने विमान की गुणवत्ता पर भी कोई सवाल नहीं उठाया है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को आज यह बताना चाहिए कि उनको आखिर इस सौदे के बारे में सूचनाएं कहां से मिलती थीं. उन्हें देश को गुमराह करने के लिए जनता से हाथ जोड़कर माफी मांगना चाहिए.

राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट से मोदी सरकार को क्लीन चिट, कहा- जांच की जरूरत नहीं

राहुल गांधी ने अपने और अपनी पार्टी के तत्काल फायदे के लिए झूठ का सहारा लेकर चलने की एक नई राजनीति की शुरुआत की. सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने आज सिद्ध कर दिया है कि झूठ के पैर नहीं होते और अंत में जीत सत्य की ही होती है. देश की आजादी के बाद से एक कोरे झूठ के आधार पर देश की जनता को गुमराह करने का इससे बड़ा प्रयास कभी नहीं हुआ और ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह प्रयास देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष के द्वारा किया गया.