नई दिल्ली: क्या भाजपा विरोधी ‘महागठबंधन’ का आपके संसदीय क्षेत्र में कोई असर होगा? यह सवाल ‘नमो’ एप पर ‘पीपुल्स पल्स’ सर्वेक्षण में लोगों से पूछे जाने वाले कई सवालों में से एक है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को ट्विटर पर एक संक्षिप्त वीडियो पोस्ट कर लोगों से सर्वेक्षण में हिस्सा लेने की अपील की.

यूपी: गठबंधन में नहीं मिली जगह, लोकसभा की 80 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

सर्वेक्षण में लोगों से उनके राज्य, संसदीय क्षेत्र, सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं, किसानों की समृद्धि, भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन, स्वच्छ भारत, राष्ट्रीय सुरक्षा, अर्थव्यवस्था, ढांचागत सुविधाएं, रोजगार और ग्रामीण विद्युतीकरण जैसे क्षेत्रों में केंद्र सरकार की उपलब्धियों के बारे में पूछा जा रहा है. वीडियो संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘नमो एप्प पर सर्वेक्षण शुरू किया गया है. सर्वेक्षण के माध्यम से मैं सीधे आपका फीडबैक चाहता हूं. आपका फीडबैक मायने रखता है. विभिन्न मुद्दों पर आपके फीडबैक से हमें महत्वपूर्ण निर्णय करने में मदद मिलेगी. क्या आप सभी उस महत्वपूर्ण सर्वेक्षण में हिस्सा लेंगे.’

गठबंधन पर सीएम योगी बोले- अच्छा हुआ सपा-बसपा एक हो गए, अब आएगा हराने में मजा

सवालों में महागठबंधन के बारे में एक प्रश्न भी शामिल है. इसमें लोगों से पूछा गया है कि क्या ‘महागठबंधन’ का उनके संसदीय क्षेत्र में असर पड़ेगा. आम चुनावों से पहले भाजपा के खिलाफ गठबंधन बनाने के प्रयासों के बीच यह सर्वेक्षण किया जा रहा है. बता दें कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के बीच गठबंधन हुआ है. दोनों ने 38-38 सीटें आपस में बांटी हैं. इस गठबंधन के बाद राजनैतिक हलचल है. वहीं, अन्य राज्यों में भी लोकसभा चुनाव में गठबंधन की कोशिशें चल रही हैं. गठबंधन से निपटने के लिए बीजेपी रणनीति बना रही है.