नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जर्मनी के पद्म श्री पुरस्कार विजेता को वीजा देने से इनकार करने के मामले में रिपोर्ट मांगी है. जर्मन नागरिक ने इस मुद्दे पर पुरस्कार लौटाने की चेतावनी दी है. बता दें कि इस जर्मन महिला को कई हजार गायों की जिंदगी बचाने के लिए जाना जाता है. उन्‍होंने भारत में गौ सेवा में सराहनीय कार्य किए है, जिसके लिए भारत सरकार ने उन्‍हें पद्म पुरुस्‍कार से सम्‍मानित किया था. Also Read - Grief and anger of those whose kins were killed by ISIS in Mosul | इराक में भारतीयों की हत्याः पीड़ितों का छलका दर्द, कहा- एक उम्मीद थी लेकिन...

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, जर्मन नागरिक फ्रेडिरक इरिना ब्रूनिंग (61) को गोरक्षा के लिए इस वर्ष पद्म श्री से नवाजा गया था. भारत में और अधिक समय तक रुकने के लिए उनके वीजा विस्तार के आवेदन को विदेश मंत्रालय द्वारा लौटाए जाने के बाद उन्होंने पुरस्कार लौटाने की धमकी दी थी. Also Read - shah of saudi arabia helping indian labourers | भारतीय श्रमिकों की मदद कर रहे सऊदी शाह :सुषमा

मीडिया रिपोर्ट पर सुषमा ने ट्वीट किया, मेरे संज्ञान में इसे लाए जाने के लिए धन्यवाद. मैंने रिपोर्ट मांगी है. स्वराज ने एक अन्य ट्वीट में एक अन्य महिला को मदद का आश्वासन दिया जिन्होंने स्पेन के बार्सिलोना में अपने पति और बेटे का पासपोर्ट लूट लिए जाने के बाद मदद की गुहार लगाई थी.