Sushant Singh Rajput Death Mystery: बिहार में भाजपा के विधायक और मृतक अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई नीरज कुमार सिंह बबलू ने सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में गवाहों को पुलिस सुरक्षा देने की मांग की है. बबलू ने मंगलवार को एएनआई को दिए एक बयान में कहा, “गवाहों को धमकी दी जा रही है और मुंबई पुलिस उन्हें सुरक्षा भी नहीं दे रही है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से चीजें सामने आ रही हैं, उससे गवाहों की जान का खतरा भी हो सकता है. ऐसे मे हम मांग करते हैं कि गवाहों को पुलिस की सुरक्षा दी जानी चाहिए. Also Read - SSR Death Case: RJD नेता का विवादित बयान-राजपूत थे ही नहीं सुशांत, मचा बवाल, देखें Video

सुशांत सिंह मौत के मामले में कुछ दिनों पहले, नीरज कुमार सिंह बबलू ने शिवसेना नेता संजय राउत को सुशांत के पिता के लिए दिए गए अपमानजनक बयान पर माफी मांगने को कहा था. संजय राउत ने सु्शांत की मौत के मामले को एक नया मोड़ देते हुए उनके पिता पर दूसरी शादी करने का आरोप लगाया था, जिसके बाद इस मामले में उनकी जमकर आलोचना हुई थी. Also Read - रिया की ड्रग्स स्टोरी के पांच बड़े किरदार, सबसे बड़ी नशेबाज 'सारा अली खान' और चार कौन...

इसके बाद सुशांत के चचेरे भाई ने राउत की इस विवादास्पद टिप्पणी पर उनको कानूनी नोटिस भेजा था. टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के अनुसार, बबलू ने संजय राउत से 48 घंटों में सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा है अन्यथा उनपर कानूनी कार्रवाई की बात भी कही. जिस पर, राउत ने माफी मांगने से इनकार कर दिया और कहा, “मैं केवल लोगों को चुपचाप बैठने के लिए कह रहा हूं जब तक कि मुंबई पुलिस अपनी जांच खत्म नहीं कर देती. इसमें वह हर कोई  शामिल है, राजनीतिक दल, विपक्ष, और उसका परिवार. ”

वहीं, इस मामले को महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस ने सीबीआई को सौंपने से इनकार कर दिया है जब तक कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा उन्हें कोई आदेश नहीं दिया जाता. बता दें कि शीर्ष अदालत ने अभी तक रिया चक्रवर्ती द्वारा दायर याचिका पर अपने फैसले की कोई घोषणा नहीं की है जिसमें उसने पटना से मुंबई के लिए दायर एफआईआर को स्थानांतरित करने का अनुरोध किया है.

इस बीच, केंद्र द्वारा बिहार सरकार द्वारा मामले में सीबीआई जांच कराने की बिहार सरकार की सिफारिश को स्वीकार करने के बाद केंद्रीय जांच एजेंसी ने अपनी जांच शुरू कर दी है.