नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को देश के उन लोगों से, जिनके रिश्तेदार त्रिपोली में रहते हैं, अपील की कि वे उनसे लीबिया की राजधानी तुरंत छोड़ने को कहें, क्योंकि वहां हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं.

 

सुषमा ने ट्वीट किया कि लीबिया से बड़ी संख्या में पलायन और यात्रा पर प्रतिबंध के बाद भी त्रिपोली में 500 से ज्यादा भारतीय नागरिक हैं. त्रिपोली के हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं. इस समय, विमानों का संचालन हो रहा है. कृपया अपने रिश्तेदारों और दोस्तों से कहिए कि वे तुरंत त्रिपोली छोड़ दें. हम उन्हें बाद में वहां से नहीं निकाल पाएंगे. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने शुक्रवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र समर्थित लीबियाई सरकार और त्रिपोली के इर्दगिर्द रह रही पूर्वी क्षेत्र की सेना के बीच लड़ाई में 213 लोग मारे गए हैं और 1,009 घायल हो गए हैं.

त्रिपोली पर कब्जा के लिए सैन्य अभियान चला रही सेना
खलीफा हफ्तार की अगुवाई वाली सेना त्रिपोली पर कब्जा के लिए अप्रैल की शुरुआत से ही सैन्य अभियान चला रही है. लीबिया वर्ष 2011 में मोहम्मद गद्दाफी शासन के पतन के बाद से असुरक्षा का माहौल खत्म कर लोकतांत्रिक व्यवस्था लाने के लिए संघर्षरत है.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दिया सऊदी में फंसे भारतीय को स्वदेश लौटने में मदद का आश्वासन