नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सऊदी अरब में फंसे एक भारतीय को स्वदेश लौटने में मदद का आश्वासन दिया है. व्यक्ति ने ट्विटर पर मदद की गुहार लगाते हुए आत्महत्या करने की धमकी दी थी.

सुषमा स्‍वराज से नाम के आगे ‘चौकीदार’ जोड़ने पर यूजर ने किया सवाल, जानिए विदेश मंत्री का जवाब

व्यक्ति की पहचान अली के तौर पर की गयी है. उसका दावा है कि वह पिछले 12 महीनों से रियाद में भारतीय दूतावास से स्वदेश लौटने में मदद की गुहार लगा रहा है. उसने ट्विटर पर आत्महत्या करने की धमकी दी. अली ने लिखा कि सर एक बात बताएं क्या आप लोग मेरी मदद कर सकते हो या मुझे खुदकुशी कर लेनी चाहिए. तकरीबन 12 महीनों से गुहार लगा रहा हूं मैं एंबेसी से लेकिन एंबेसी मुझे समझा रही है. अगर मुझे इंडिया भिजवा सकते हो तो मेहरबानी होगी क्योंकि मेरे चार बच्चे हैं सर.

मसूद पर सुषमा स्वराज ने कहा- अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के प्रयास को मिला ऐतिहासिक समर्थन

इस अपील पर स्वराज ने बृहस्पतिवार को ट्विटर जवाब में कहा कि वह उनकी मदद करेंगी और पूरा दूतावास उनके साथ सहयोग करेगा. उन्होंने लिखा कि खुदकुशी की बात नहीं सोचते. हम हैं ना. हमारी एंबेसी आपकी पूरी मदद करेगी. इस पर उन्होंने रियाद में भारतीय अधिकारियों से मामले की पूरी रपट देने के लिए कहा है. हालांकि बाद में अली के ट्वीट को ट्विटर से हटा लिया गया.