Suvendu Adhikari quits key office: अगले साल मार्च-अप्रैल में पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे वरिष्ठ नेता और मंत्री सुवेंदु अधिकारी ने गुरुवार को हूगली रिवर ब्रिज कमिश्नर्स (Hooghly River bridge Commissioners) के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया. उनके इस्तीफे के तुरंत बाद इस पद पर पार्टी के सांसद कल्याण बनर्जी को नियुक्त कर दिया गया.Also Read - बजट सत्र के पहले दिन सपा का विरोध प्रदर्शन, योगी आदित्यनाथ बोले- बोलने का सभी को मिलेगा मौका

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और उनके मंत्री सुवेंदु अधिकारी के बीच सोमवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही थी. इस संबंध में जल्द ही और बैठकें होने की संभावना जताई जा रही थी लेकिन अब लगता है कि काफी देर हो चुकी है. सुवेंदु ने पार्टी से दूरी बनाने का फैसला कर लिया है. वह राज्य मंत्रिमंडल की बैठकों में भाग नहीं ले रहे हैं. Also Read - भरी सभा में अपनी ही पार्टी की पोल खोलने लगे भाजपा सांसद अरविंद शर्मा, मंच से बोले- सीएम खट्टर अपने दिमाग से काम नहीं करते

वरिष्ठ टीएमसी सांसद सौगत रॉय को अधिकारी के साथ बातचीत करने का काम सौंपा गया था. बीते सोमवार को उत्तरी कोलकाता के एक स्थान पर उन दोनों के बीच लगभग दो घंटे तक चर्चा हुई. Also Read - राशन उठाने वाले अनधिकृत लोगों से वसूली के ‘शासनादेश’ पर श्वेत पत्र जारी करे सरकार: कांग्रेस

ममता बनर्जी की सरकार में परिवहन, सिंचाई और जल संसाधन मंत्री सुवेंदु अधिकारी काफी समय से नाराज चल रहे हैं. वह पार्टी के बैनर के बिना ही अपने इलाके में कई कार्यक्रम कर रहे हैं. उनके समर्थकों उन्हें दादा बुलाते हैं और कई बैनरों पर लिखा गया है कि हम दादा के पीछे हैं.

ऐसी संभावना व्यक्त की जा रही है कि सुवेंदु विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल छोड़कर भाजपा में शामिल हो जाएंगे.