खुले में शौच मुक्त और स्वच्छ भारत बनाने की दिशा में राजस्थान के बाड़मेर के कलेक्टर सुधीर शर्मा ने एक अनूठी पहल की शुरुआत की है। उन्होंने घोषणा की कि जो परिवार रोज शौचालय का इस्तेमाल करेगा उसे 2500 रुपए प्रति महीने मिलेगा। फिलहाल इस योजना की शुरुआत दो पंचायतों में की गई है। इसे धीरे धीरे बाकि गांवो में भी शुरु किया जाएगा।

इस योजना की शुरुआत केन इंडिया, ग्रामीण विकास विभाग और जिला प्रशासन के सहयोग से बायतू और गिडा पंचायत में की गई है। वादे के मुताबिक बायतू पंचायत के 8 परिवारों को 2500 रुपये के चेक भी बांटे गए। इस मौके पर शर्मा ने बताया कि, ‘इस योजना से बायतू और गिडा पंचायत के 15 हजार परिवारों को लाभ होगा। अगर इस योजना को सफलता मिलती है तो इसे अन्य इलाकों में भी लागू किया जायेगा।’

रोज शौचालय का इस्तेमाल करने वालों की निगरानी रखने का जिम्मा केयर्न इंडिया व ग्रामीण विकास संगठन के सदस्यों की एक टीम को सौंपा गया है। ताकि पता चल सके कि शौचालयों का नियमित रूप से उपयोग किया जा रहा है या नहीं। ये लोग ग्रामीणों को शौचालय का इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित भी करते हैं। यह भी पढ़ें: स्वच्छ भारत अभियान के तहत 80 लाख शौचालयों का निर्माण : सर्वेक्षण

बता दें तत्कालीन मोदी सरकार भारत को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए तत्पर है। इसके लिए स्वच्छ भारत अभियान के तहत लोगों को घरों में शौचालय बनाने के लिए सब्सिडी भी दी जा रही है।