कोलकाताः संशोधित नागरिकता कानून (CAA) की मुखर विरोधी अभिनेत्री स्वरा भास्कर(Swara bhaskar) ने मंगलवार को दावा किया भाजपा नीत केंद्र सरकार लोगों का ध्रुवीकरण करने का पूरा प्रयास कर रही है लेकिन जिन लोगों ने इस विभाजनकारी साजिश को समझ लिया है उन्होंने भगवा पार्टी के विमर्श को खारिज कर दिया है. Also Read - केरल सरकार का बड़ा फैसला, नागरिकता कानून और सबरीमाला मामले को लेकर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मुकदमे वापस होंगे

कोलकाता में आयोजित 44वें अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले के एक सत्र में शिरकत करते हुए स्वरा ने कहा कि दरअसल नागरिकों को शुरू समझ में नहीं आता कि उनकी स्वतंत्रता छीनी जा रही है क्योंकि वे बदलाव के अनुसार ढलने की कोशिश करते हैं. उन्होंने कहा, “यह तब शुरू होता है जब कोई हमें यह बताता है कि क्या खाएं, क्या पढ़ें और ईश्वर के दर पर जाने पर क्या पहने…, यह छोटी-छोटी चीजों से शुरू होता है.” Also Read - कंगना रनौत ने कहा था- मैं नहीं करती हूं आइटम डांस, स्वरा भास्कर ने दे दिया सुबूत, हो गया ट्विटर वॉर

अभिनेत्री ने दावा किया कि इस देश में लोगों को पता चल चुका है कि संविधान खतरे में है और बहुत से लोगों ने सरकार के विभाजनकारी विमर्श को नकार दिया है. उन्होंने कहा, “इसीलिए शाहीन बाग और पार्क सर्कस जैसे स्थानों पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. छात्र और महिलाएं अपने विमर्श के साथ सड़कों पर आ रही हैं.” Also Read - VIDEO: राहुल गांधी ने कहा- 'हम दो-हमारे दो' अच्छी तरह सुन लें, असम को कोई नहीं बांट पाएगा, CAA नहीं होगा

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब स्वरा ने संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में कुछ कहा है. इससे पहले भी वह सीएए को लेकर कई बार बयान दे चुकीं है. हाल ही में उनका एक वीडियों सोशल मीडिया में काफी वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने कहा था उनके पास नागरिकता संबंधी एक भी कागजात नहीं हैं.