चेन्नई. तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि की तबीयत ठीक नहीं है. वह बुखार से पीड़ित हैं और यूरीनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से प्रभावित हैं. उनके तबीयत की जानकारी मिलते ही विभिन्न दलों के नेता शुक्रवार को उनके आवास पर पहुंचे. वहीं डीएमके से निष्कासित एमके अलागिरी भी अपने पिता से मिलने घर पहुंचे. बता दें कि करूणानिधि अक्तूबर , 2016 से ही बीमार चल रहे हैं.

94 साल के द्रमुक प्रमुख के जल्दी स्वस्थ होने की कामना करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लिखा है, ‘‘थिरू एम . के . स्टालिन और कनिमोई जी से बातचीत की. कलैंग्नार करूणानिधि जी के स्वास्थ्य के बारे में पूछा और जरूरत पड़ने पर सहायता की पेशकश की. मैं उनके जल्दी स्वस्थ्य होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं.’’

अपने नेता से मिलने आ रहे द्रमुक कार्यकर्ताओं की संख्या को देखते हुए गोपालपुरम स्थित करूणानिधि के आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. करूणानिधि का इलाज कर रहे कावेरी अस्पताल ने गुरुवार की रात की बुलेटिन में कहा था , ‘उम्र संबंधी दिक्कतों के कारण द्रमुक अध्यक्ष एम . करूणानिधि के स्वास्थ्य में कुछ गिरावट आई है.’’

एमडीएमके प्रमुख वाइको , तमिलनाडु भाजपा प्रमुख तमिलिसाई सुन्दरराजन और तमिझागा वाझवुरिमाई कात्ची नेता वेलमुरूगन करूणानिधि से मिलने उनके आवास पर गए और परिवारजन तथा द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष स्टालिन से उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा. बाहर से आने वाले लोगों को फिलहाल करूणानिधि से मिलने की अनुमति नहीं है.