चेन्नई: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई.के. पलानीस्वामी ने सोमवार को गाजा चक्रवात, सूखे और कम बारिश से प्रभावित हुए गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले (बीपीएल) 60 लाख परिवारों के लिए दो-दो हजार रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की है. विधानसभा में इसकी घोषणा करते हुए पलानीस्वामी ने कहा कि विभिन्न जिलों में गरीब लोग गाजा चक्रवात, कम बारिश और सूखे से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. इसे संज्ञान में लेते हुए सरकार ने विशेष सहयोग के तौर पर गरीब परिवारों को दो-दो हजार रुपए देने का निर्णय लिया है. Also Read - सरकार ने कर्ज गारंटी योजना के दायरे में 27 अन्य क्षेत्र भी जोड़े, स्वास्थ्य सेवाओं को किया शामिल

मुख्यमंत्री ई.के. पलानीस्वामी ने कहा कि इसके लिए 1,200 करोड़ रुपए व्यय होगा. बता दें कि राज्य सरकार ने पोंगल पर्व मनाने के लिए बीपीएल और सामान्य राशन कार्ड धारकों को 1,000 रुपए का नकद उपहार और गिफ्ट हैम्पर दिए हैं. Also Read - Cyclone Nivar Latest Updates: बड़ी राहत, तमिलनाडु के तट पर कमजोर हुआ प्रचंड चक्रवात ‘निवार’

पलानीस्वामी ने कहा कि गांवों में 35 लाख परिवारों और शहरों के 25 लाख परिवारों को इसका लाभ मिलेगा. उनके अनुसार, आर्थिक सहयोग विशेषकर किसानों, मछुआरों, आतिशबाजी निर्माण इकाइयों, बुनकरों, पेड़ पर चढ़ने वालों और अन्य को काफी राहत पहुंचाएगा. Also Read - केरल, महाराष्‍ट्र, दिल्‍ली राजस्‍थान समेत देश के कई राज्‍यों में कोरोना वायरस का प्रचंड प्रकोप, पढ़ेंं डिटेल

पीएमके के संस्थापक एस. रामदास ने पलानीस्वामी की घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि सरकार को गरीबी उन्मूलन के लिए गरीबों को प्रतिमाह 2,000 रुपए देने की घोषणा करनी चाहिए.