चेन्नई: ‘गजा’ तूफान के असर और सूखे के मौजूदा हालात को ध्यान में रखते हुए तमिलनाडु सरकार ने समूचे राज्य में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे करीब 60 लाख परिवारों को राहत देते हुए दो-दो हजार रुपये की विशेष सहायता राशि देने की सोमवार को विधानसभा में घोषणा की. Also Read - School Reopening Latest News: इस राज्य में 16 नवंबर से अब नहीं खुलेंगे स्कूल, शिक्षा मंत्री ने दी ये जानकारी

Also Read - Reservation in Medical College: मेडिकल कॉलेजों में सरकारी स्कूलों के छात्रों को मिलेगा 7.5% आरक्षण, सरकार ने लिया ये अहम फैसला 

गुर्जर आंदोलनः दिल्ली-मुंबई ट्रैक पर जमे नेता, कई प्रमुख ट्रेनें रद्द Also Read - PM Ujjwala Yojana : मुफ्त में गैस सिलेंडर कनेक्शन चाहिए, मात्र नौ दिन बचे हैं, ऐसे करें अप्लाई

60 लाख परिवारों को मिलेगा लाभ

विधानसभा में नियम 110 के तहत बयान देते हुए मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने कहा कि यह प्रस्ताव समावेशी विकास सुनिश्चित करने के राज्य सरकार के प्रयासों का हिस्सा है. उन्होंने कहा, ‘‘राज्य के कई जिलों में ‘गजा’ तूफान के साथ-साथ सूखे के असर पर विचार करते हुए यह विशेष सहायता उपलब्ध कराई जाने वाली है.’’ पलानीस्वामी ने कहा कि लाभार्थियों में शहरी और ग्रामीण गरीबों के साथ-साथ किसान मजदूर, पटाखा कारखानों में काम करने वाले श्रमिक, पावरलूम, हथकरघा क्षेत्र, नमक निर्माण उद्योगों में काम करने वाले मजदूर शामिल हैं.

मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले कुल 60 लाख परिवारों को इस कदम से लाभ पहुंचेगा. इसके लिए कुल 1,200 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे. पिछले साल नवंबर में नागापट्टनम जिले में वेदअरण्यम के पास तट से टकराये ‘गजा’ तूफान ने राज्य के दक्षिणी हिस्से में 10 जिलों में तबाही मचाई थी.

राजनीति में आने के बाद Twitter पर भी एक्टिव हुईं प्रियंका, कुछ ही घंटों में हो गए इतने सारे Followers