सलेम: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार राजीव गांधी हत्याकांड के सात दोषियों को रिहा करने के लिए प्रतिबद्ध है. मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि राज्यपाल उन्हें रिहा करने की कैबिनेट की सिफारिश के अनुरूप फैसला लेंगे. पलानीस्वामी ने मीडियाकर्मियों से कहा, हम चाहते हैं कि सातों को रिहा किया जाए और इसलिए हमने कैबिनेट में एक प्रस्ताव पारित किया और उसे राज्यपाल को भेजा. राज्यपाल को (मामले पर) निर्णय लेना है. Also Read - पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख पोती, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दूध से साफ की

पलानीस्वामी का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब विपक्ष और तमिल समूह आजीवन कारावास की सजा काट रहे सातों दोषियों को रिहा किए जाने की फिर से अपील करने लगे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री के साथ मारे गए लोगों के परिजन की उस याचिका का हाल में निपटारा किया था, जिसमें दोषियों की रिहाई का विरोध किया गया है. Also Read - School Reopening Latest News: इस राज्य में 16 नवंबर से अब नहीं खुलेंगे स्कूल, शिक्षा मंत्री ने दी ये जानकारी

राजीव गांधी के साथ मारे गए लोगों के परिजनों ने सातों दोषियों को रिहा करने के 2014 में लिए गए तमिलनाडु सरकार के फैसले का विरोध किया था. पलानीस्वामी ने कहा, हमने लोगों की भावनाओं के आधार पर फैसला किया, कैबिनेट में प्रस्ताव पारित किया और उसे राज्यपाल के पास भेजा. हम उम्मीद करते हैं कि वह कदम उठाएंगे. Also Read - Reservation in Medical College: मेडिकल कॉलेजों में सरकारी स्कूलों के छात्रों को मिलेगा 7.5% आरक्षण, सरकार ने लिया ये अहम फैसला