नई दिल्लीः देश में 17 मई तक लॉकडाउन जारी है लेकिन इस बीच लगातार एक राज्य से दूसरे राज्यों में प्रवासी मजदूरों और छात्रों का पलायन जारी है. तमिलनाडु से लगातार प्रवासी श्रमिक अपने अपने राज्य जा रहे हैं. शुक्रवार रात कई श्रमिक हाइवे में पैदल चलकर अपने गृहनगर जा रहे थे. सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंचे और सभी श्रमिकों को पैदल जाने से मना कर दिया. Also Read - विदेश से आने वाले भारतीयों को अब 7 दिन रहना होगा क्वारंटाइन, वापस किए जाएंगे बचे हुए पैसे

इस बात को लेकर श्रमिकों और पुलिस के बीच कहा सुनी भी हुई. पुलिस प्रशासन ने सभी लोगों को बस में बैठाकर एक निजी हाल में भेज दिया है. यह घटना मदुरावोयल हाइवे की बताई जा रही है. श्रमिक काफी संख्या में थे, उनका कहना था कि अगर कोई व्यवस्था नहीं है तो हम पैदल ही अपने घर जाएंगे. पुलिस को भीड़ को कंट्रोल करने के लिए लाठी चार्ज भी करना पड़ा Also Read - छत्तीसगढ़ में Coronavirus के 15 नए केस, कुल आंकड़ा, 307 लेकिन कोई भी मौत नहीं

नेशल हाइवे में तेज रफ्तार से गाड़ियां आती हैं और रात के समय गाड़ियों की संख्या काफी बढ़ जाती है जिससे किसी अप्रीय घटना की संभावना अधिक होती है. इसी बात को ध्यान में रखकर पुलिस ने श्रमिकों से नेशनल हाइवे पर चलने से मना कर दिया.