Tauktae Cyclone : भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अरब सागर में बने दबाव के क्षेत्र के 17 मई को ‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’ में तब्दील होने की संभावना है. भीषण चक्रवाती तूफान शनिवार को गुजरात तट को पार कर सकता है. इससे पहले मौसम की स्थिति भी ऐसी ही दिख रही है. जो गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गई है और इसके शनिवार सुबह तक  (Tauktae Cyclone news)  तूफान में तब्दील होने की संभावना है. Also Read - 'ONGC की लापरवाही के कारण हई बजरा त्रासदी': शिवसेना ने पूछा- क्या पेट्रोलियम मंत्री इस्तीफा देंगे

येलो-आरेंज और रेड अलर्ट जारी Also Read - Cyclonic Storm YAAS Latest Update: बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान 'यास' ला सकता है बड़ी तबाही, हाई अलर्ट जारी

मौसम विज्ञान विभाग(IMD) ने यह जानकारी दी है कि तूफान के शनिवार रात तक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है. तूफान की आशंका वाले प्रदेशों और लक्षद्वीप के लिए भारतीय मौसम विभाग ने आने वाले दिनों के दृष्टिगत दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं. आईएमडी ने पहले ही मुंबई और ठाणे को येलो अलर्ट जारी कर दिया है, जबकि गुजरात और केरल के कई जिलों के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किए गए हैं. Also Read - ताउते तूफान: अरब सागर में फंसे ONGC के जहाजों में 37 लोगों की मौत, 38 अभी भी लापता; जानिए कहां हुई चूक?

150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं
आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि 16-19 मई के बीच पूरी संभावना है कि तुकाते के तूफान में तब्दील होने के दौरान 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. तूफान के तेज होने के बाद हवाओं की रफ्तार बीच-बीच में 175 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है. मौसम विभाग ने पश्चिमी तटीय राज्यों को सतर्क किया है.

पांच राज्यों को है तूफान से खतरा

गुजरात, केरल समेत देश के पांच राज्यों पर चक्रवाती तूफान तुकाते  का खतरा पैदा हो गया है. इससे भारी नुकसान का अंदेशा भी है. इसे लेकर राहत और बचाव के उपाय अभी से शुरू हो गए है. तूफान के  प्रभाव की आशंका वाले पांच राज्यों में एनडीआरएफ (NDRF) की 53 टीमें तैनात कर दी गई हैं. प्रत्येक टीम में पेड़ व बिजली के खंभे काटने, बोट और बचाव-चिकित्सा के उपकरणों से लैस 40 जवान शामिल हैं.

कई जगहों पर 15-16 मई को भारी बारिश की संभावना
मौसम विभाग ने कहा है कि कर्नाटक के तटीय एवं आसपास के जिलों में 15 मई को  हल्की से मध्यम तथा कुछ स्थानों पर भारी से अत्यंत भारी तथा 16 मई को कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है. इसके साथ ही कोंकण और गोवा में 15-16 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है.

आईएमडी ने कहा कि गुजरात में सौराष्ट्र क्षेत्र के तटीय जिलों में 16 मई से बारिश होने की संभावना है तथा 17 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश हो सकती है तो वहीं, 18 मई को सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ जगहों पर भारी से अत्यंत भारी तथा किसी-किसी स्थान पर अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है.