नई दिल्ली: बीजेपी ने शुक्रवार को चुनाव आयोग से संपर्क करके कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की शिकायत एक अंग्रेजी अखबार में शुक्रवार को छपे उनके इंटरव्यू को लेकर की है. भाजपा का दावा है कि यह मामला पेड न्यूज का ‘ज्वलंत उदाहरण’ है. केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा, मुख्तार अब्बास नकवी और भाजपा के मीडिया प्रभारी अनिल बलुनी सहित अन्य नेताओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग को एक ज्ञापन सौंपा. इसमें हैदराबाद से छपे इंटरव्यू की एक कॉपी थी. उनका कहना था कि रिपोर्टिंग की तरह छपा यह इंटरव्यू पेड न्यूज का ज्वलंत उदाहरण है. Also Read - Bihar Assembly Election: सीट बंटवारे को लेकर RJD की कांग्रेस से अपील, हठधर्मिता छोड़ें

Also Read - बिहार में सीट बंटवारे को लेकर RJD ने कांग्रेस से की अपील, कहा- ज़िद छोड़ें, नुकसान हो जाएगा

महा एक्जिट पोलः तेलंगाना और मिजोरम में राष्ट्रीय पार्टियों ने मुंह की खाई, क्षेत्रीय दलों का जलवा Also Read - नेताजी के पोते ने कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के नाम पर फिर से विचार करने के लिए PM से किया अनुरोध

चुनाव आयोग के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए नकवी ने कहा, ‘तेलंगाना और राजस्थान में चुनाव से ठीक एक दिन पहले राहुल गांधी इंटरव्यू के माध्यम से मतदाताओं को और चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने की कोशिश में हैं जो कि एक पेड न्यूज है. यह चुनाव सुधार का उल्लंघन है. नकवी ने कहा कि गांधी ने अपने इंटरव्यू में एक सर्वेक्षण का हवाला देते हुए दावा किया है कि कांग्रेस सभी पांच राज्यों में चुनाव जीत रही है और भाजपा हार रही है. उन्होंने कहा, ‘यह इंटरव्यू पेड न्यूज की श्रेणी में आता है. नियम के अनुसार मतदान से 48 घंटे पहले कोई चुनाव प्रचार या इस तरह के इंटरव्यू नहीं दिए जा सकते हैं. गांधी ने जानबूझकर मतदाताओं और चुनाव की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष प्रक्रिया को प्रभावित करने की कोशिश की.

Exit Poll Live: महा एक्जिट पोल में मध्य प्रदेश में BJP सबसे बड़ी पार्टी, राजस्थान में कांग्रेस की सरकार, छत्तीसगढ़ में कड़ी टक्क

तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस और विपक्षी कांग्रेस नीत ‘पीपुल्स फ्रंट’ ने राज्य विधानसभा चुनाव में अपनी-अपनी जीत का भरोसा जताया है. राज्य की 119 विधानसभा सीटों के लिए शुक्रवार को वोट डाले गए. मतगणना 11 दिसंबर को होगी. कार्यवाहक मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने अपने पैतृक गांव चिंतमडका में संवाददाताओं से कहा कि पार्टी के प्रति मतदाताओं का मूड बहुत सकारात्मक है. राव अपना वोट डालने वहां गए थे. राज्य विधानसभा चुनाव तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) और भाजपा ने अपने – अपने दम पर लड़ा है जबकि कांग्रेस ने तेदपा, भाकपा और तेलंगाना जन समिति के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा.

जानिए किस राज्य में कितनी सीटें जीतकर मिलेगा बहुमत, कौन सी पार्टी बनाएगी सरकार

केसीआर ने कहा, ‘..बगैर किसी शक-शुबहा के भारी बहुमत से यह सरकार फिर से आने वाली है. प्रदेश कांग्रेस प्रमुख एन उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा कि ‘‘पीपुल्स फ्रंट’’ 80 से अधिक सीटों पर जीत हासिल करेगा. वहीं, भाजपा प्रवक्ता कृष्ण सागर राव ने आरोप लगाया कि केसीआर ने एक मतदान केंद्र परिसर में मीडिया को संबोधित कर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया. भाजपा ने चुनाव आयोग से इस सिलसिले में शिकायत की है और केसीआर को अयोग्य (उम्मीदवार के तौर पर) करार देने की मांग की है. गौरतलब है कि तेलंगाना में विधानसभा चुनाव मूल रूप से अगले साल लोकसभा चुनावों के साथ-साथ होना था. लेकिन टीआरएस सरकार की सिफारिश के बाद सितंबर में राज्य विधानसभा समय से पहले भंग कर दी गयी थी.

(इनपुट-भाषा)