हैदराबाद: तेलंगाना में भारी नुकसान की ओर बढ़ती दिख रही कांग्रेस ने मंगलवार को यहां ईवीएम में गड़बड़ी का अंदेशा जताया और मांग की कि वीवीपैट की पर्चियों की 100 फीसदी गणना की जानी चाहिए. कांग्रेस ने चुनाव आयोग को बकायदा लिखित शिकायत करके वीवीपैट पर्चियों द्वारा मतगणना कराए जाने की मांग की है. वहीँ टीआरएस  ने कांग्रेस के इस आरोप को बकवास बताया है. टीआरएस प्रमुख के. चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता राव का कहना है कि ईवीएम में कोई गड़बड़ी नहीं है. कांग्रेस अपनी हार को पचा नहीं पा रही है इसलिए इस प्रकार के आरोप लगा रही है.Also Read - Manipur Polls 2022: मणिपुर में विधानसभा चुनाव से पहले TMC का एकमात्र विधायक BJP में शामिल

Also Read - Punjab विधानसभा चुनाव पर Zee Opinion Poll की खास बातें, किस पार्टी को कितनी सीटें? कौन सबसे पसंदीदा सीएम, जानें सबकुछ

Also Read - Zee Opinion Poll 2022: पंजाब में त्रिशंकु विधानसभा के आसार! AAP हो सकती है सबसे बड़ी पार्टी, SAD को बड़ा फायदा

के. कविता का कहना है कि इसमें कोई संदेह नहीं था कि टीआरएस पार्टी भारी बहुमत के साथ सत्ता में बनी रहेगी. लोकसभा सदस्य कविता ने कहा कि राज्य में कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं थी क्योंकि टीआरएस सरकार ने पिछले साढ़े चार सालों के दौरान सभी मोर्चों पर अच्छा प्रदर्शन किया है. 7 दिसंबर को तेलंगाना में मतदान हुए थे. यहां कांग्रेस ने 99 सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े किए थे और वह केवल 22 सीटों पर ही आगे चल रही है. पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा कि यहां ईवीएम में गड़बड़ी का अंदेशा बहुत अधिक है.

Telangana assembly election 2018: बहुमत के साथ टीआरएस रहेगी सत्ता पर काबिज, 90 सीटों पर बढ़त

ताजा रूझानों के मुताबिक, 87 सीटों पर बढ़त के साथ यहां सत्तारूढ़ टीआरएस भारी बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करती दिख रही है. राज्य में कांग्रेस ने तेलुगु देशम पार्टी, तेलंगाना जन समिति और भाकपा के साथ मिलकर विपक्षी गठबंधन बनाया था. तेदेपा दो सीटों पर आगे है जबकि गठबंधन के सहयोगी अपनी-अपनी सीटों पर पीछे चल रहे हैं.

तेलंगाना में टीआरएस आगे, KCR की बेटी कविता ने कहा- जीत को लेकर कभी संदेह नहीं था