हैदराबाद: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हैदराबाद का नाम बदलने की बात कही है. तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि बीजेपी की सरकार अगर आई तो हैदराबाद का नाम बदल कर भाग्यनगर कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि तेलंगाना में बीजेपी रामराज्य स्थापित करने को तैयार है. और तेलंगाना के लोग इसमें अहम् भूमिका निभा सकते हैं. यहां के बेगम बाजार में जनसभा संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि अगर यहां के लोग हैदराबाद को भाग्यनगर बनते देखना चाहते हैं तो बीजेपी को वोट करें. उन्होंने कहा कि आतंकवाद को रोकने का सिर्फ तरीका है कि बीजेपी को चुनें. बीजेपी ही आतंकवाद को रोक सकती है. सभी आतंकी हमलों का संबंध हैदराबाद से होता है. हमारी पार्टी मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति में यकीन नहीं करती है. इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस आतंकियों को बिरयानी परोसती है, जबकि बीजेपी गोली मारती है.

योगी के वार पर ओवैसी ने किया पलटवार- इतिहास पढ़िए और अपने गोरखपुर की फिक्र करिए

सीएम योगी रविवार को तेलंगाना पहुंचे थे. उन्होंने यहां असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी के दफ्तर से करीब दो किलोमीटर दूर रैली की. इससे पहले सीएम योगी ने एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर हमला करते हुए कहा था कि अगर भाजपा तेलंगाना में चुनाव जीत जाती है तो ओवैसी को निजाम की तरह देश छोड़कर भागना पड़ेगा. योगी के इस चुनावी बयान देने के कुछ ही घंटों बाद ओवैसी ने उनको करारा जवाब दिया था. ओवैसी ने योगी आदित्यनाथ को इतिहास पढ़ने की सलाह दी थी. साथ ही यह भी कहा कि योगी के क्षेत्र में ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की जान चली जाती है, इसलिए उन्हें अपने गोरखपुर की फिक्र करनी चाहिए.

बीजेपी जीती तो ओवैसी को हैदराबाद से वैसे ही भागना पड़ेगा जैसे निजाम भागे थे: योगी

उत्तर प्रदेश के सीएम के बयान पर नाराज असदुद्दीन ओवैसी ने योगी के इतिहास ज्ञान पर भी सवाल उठाया. उन्होंने अपने भाषण में कहा, ‘आप तारीख तो जानते नहीं, इतिहास में जीरो (शून्य) हैं आप. अगर पढ़ना नहीं आता तो पढ़ने वाले से पूछो. अगर पढ़ते तो मालूम होता कि निजाम हैदराबाद छोड़ कर नहीं गए, उनको राजप्रमुख बनाया गया था. चीन के साथ लड़ाई हुई तो इसी निजाम ने अपना सोना बेचा था.’ ओवैसी ने योगी आदित्यनाथ के प्रभुत्व वाले क्षेत्र गोरखपुर के अस्पताल में पिछले साल ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत को लेकर भी सवाल पूछा. एआईएमआईएम नेता ने मलकापेट की सभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘इनके संसदीय क्षेत्र में हर साल 150 बच्चे इंसेफलाइटिस की वजह से मरते हैं. बच्चे मर रहे हैं योगी, तुम्हारे गोरखपुर के दवाखाने में ऑक्सीजन नहीं है, तुमको वहां की फिक्र नहीं है, तुम यहां आ रहे हो. यहां आकर नफरत की दीवार खड़ी करने की बात कर रहे हो.’