हैदराबाद: तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए शुक्रवार को कहा कि पीएम को सांप्रदायिक उन्‍माद फैलाने की बीमारी है. उन्‍होंने पीएम पर तेलंगाना में मुसलमानों के लिए ज्‍यादा नौकरियों के कोटे के प्रस्‍ताव पर रोक लगाने का आरोप भी लगाया. Also Read - Ladakh Election: भाजपा ने दर्ज की शानदार जीत, कांग्रेस को मिली केवल इतनी सीटें

Also Read - दिग्विजय और कमलनाथ को ‘चुन्नू-मुन्नू’ बताया, बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय को चुनाव आयोग का नोटिस

केसीआर ने कहा कि राज्‍य सरकार की नौकरियों और शिक्षण संस्‍थानों में मुसलमानों के लिए आरक्षण की सीमा 4 से बढ़ाकर 12 फीसदी करने का प्रस्‍ताव विधानसभा पारित कर चुकी है. इसमें अनुसू‍ि जनजातियों के लिए भी आरक्षण की सीमा 6 से बढ़ाकर 10 फीसदी किए जाने का प्रस्‍ताव है, लेकिन केंद्र सरकार इस पर कुंडली मार कर बैठी है. Also Read - भाजपा ने जारी की राज्यसभा उम्मीदवारों की सूची, यूपी से हरदीप सिंह पुरी, अरूण सिंह उम्मीदवार

भाजपा का कमलनाथ पर सीधा हमला, कहा- यूपीए सरकार में ‘15% कमीशन वाले मंत्री’ को राहुल ने बचाया

नरसमपेट में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए केसीआर ने कहा, नरेंद्र मोदी और भाजपा एक बीमारी की शिकार है. उन्‍हें हर बात में हिंदू-मुस्लिम दिखाई देता है. उन्‍हें ओर कुछ नहीं दिखता और यही कारण है कि मुसलमानों के लिए ज्‍यादा आरक्षण के प्रस्‍ताव पर केंद्र सरकार कोई फैसला नहीं दे रही है.

जरूरत पड़ी तो संविधान ताक पर रख 1992 का इतिहास दोहराया जाएगा: भाजपा विधायक

कार्यवाहक मुख्‍यमंत्री ने भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस को भी निशाने पर लिया. उन्‍होंने कहा कि दोनों बड़ी राष्‍ट्रीय पार्टियां राज्‍यों को अपने नियंत्रण में रखने की कोशिश करती हैं. उन्‍होंने कांग्रेस-तेदेपा गठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि चंद्रबाबू नायडू तेलंगाना का विकास रोकने की साजिश करते हैं.