नई दिल्‍ली: पबजी खेल रहे 10वीं के छात्र को जब माता-पिता ने ऐसा करने से मना किया तो उसने कमरे में जाकर आत्‍महत्‍या कर ली. यह घटना तेलंगाना के मेडचल-मलकजगिरी जिले की बताई जा रही है. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है.

 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, तेलंगाना के मेडलच-मलकजगिरी इलाके के विष्‍णुपुरी एक्‍सटेंशन में भरथराज पुजारी रहते हैं. उनका 16 साल का लड़का कल्लाकुरी सांबशिव 10वीं का छात्र था. इस समय उसकी परीक्षाएं चल रही थीं. सोमवार रात को वह घर में पढ़ने के बजाए मोबाइल पर ऑनलाइन गेम ‘पबजी’ खेल रहा था. इस पर उसकी मां ने छात्र को टोका और पढ़ाई करने को कहा. इस पर गुस्‍से में आकर छात्र अपने कमरे में चला गया. घर वालों ने सोचा कि छात्र कमरे में पढ़ाई कर रहा होगा, इस कारण वे बेफ्रिक हो गए.

Tips: बोर्ड परीक्षा के समय बच्चे के मन को पढ़ना जरूरी, करें ये काम

उधर, छात्र ने कमरे में जाकर फांसी का फंदा लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली. मलकजगिरी के उप-निरीक्षक (एसआई) संजीव रेड्डी ने कहा कि छात्र के माता-पिता ने उसे कई बार चेतावनी दी थी. सोमवार को, उसकी मां ने मंगलवार को होने वाली अंग्रेजी परीक्षा की तैयारी के बजाय उसे मोबाइल पर गेम खेलने को लेकर डांटा. इसके बाद संबाशिव बेडरूम के अंदर गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया. कुछ समय बाद जब वह बाहर नहीं आया तो उसके माता-पिता कुंडी तोड़कर अंदर घुसे. वहां देखा तो छत के पंखे से एक तौलिया के साथ छात्र का शव लटका रहा था. घरवाले उसे नजदीक के अस्‍पताल ले गए, जहां डाक्‍टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने मामले में धारा 174 के तहत केस दर्ज किया है. मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया.