ठाणे: महाराष्ट्र के ठाणे में एक नामी बिल्डर से पांच लाख रूपये कथित रूप से जबरन वसूलने और शेष बचे 45 लाख रुपए देने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. इस व्यक्ति ने आरटीआई कार्यकर्ता होने का दावा किया है. पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान सुधीर भार्गे के रूप में हुई है. उसके दो सहयोगियों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस ने बताया कि एक निर्माण कंपनी के सुरक्षा अधिकारी ने शहर में कसारवदावली पुलिस थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी. शिकायत के मुताबिक भार्गे ठाणे में स्थित कंपनी के कार्यालय में आया और उसने आरोप लगाया कि बिल्डर ने गैर कानूनी ढ़ंग से निर्माण किया है. उसने इस मामले को छिपाने के लिए बिल्डर से 50 लाख रुपए की मांग की.

पुलिस ने शिकायत के हवाले से बताया कि उसने धमकी दी कि यदि उसे पैसा नहीं दिया गया तो वह ‘अवैध’ निर्माण करने के लिए कंपनी के खिलाफ शिकायत करेगा. आखिरकार कंपनी ने उसे पांच लाख रूपये दे दिये. बाद में उसने और उसके दो सहयोगियों ने बिल्डर से बाकी की राशि की मांग शुरू कर दी. ठाणे पुलिस के प्रवक्ता सुखदा नारकर ने बताया कि भार्गे और दो अन्य सहयोगियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच की जा रही है.