कोच्चि: केरल के कोच्चि जिले के कक्कानाड में बुधवार को एकतरफा प्यार में एक लड़के ने 17 वर्षीय नाबालिक लड़की को जलाकर मार दिया. नाबालिक लड़की को जलाने के बाद लड़के ने खुद आग लगाकर आत्महत्या कर ली. अभी तक आरोपी की करतूत के पीछे की वजह का पता नहीं चल सका है, लेकिन वहीं रिपोर्ट्स बताती हैं कि नाबालिग लड़की ने प्रेम संबंधी रिलेशन का अपना प्रस्ताव ठुकरा दिया था.

खबरों के मुताबिक बताया जा रहा है कि एर्नाकुलम जिले के परवूर का रहने वाला 27 वर्षीय मिथुन ने बुधवार देर रात पीड़िता के घर पर धावा बोला और उसके बाद लड़के ने पीड़ित लड़की को जबरदस्ती पकड़ लिया. आरोपी ने नाबालिग लड़की को पकड़ने के बाद उस पर पेट्रोल छिड़क कर उसके घर के अंदर ही उसे आग लगा दी. पीड़ित लड़की के आग की चपेट में आने के बाद मिथुन ने खुद पर भी पेट्रोल डालकर आग लगा ली. इस घटना में पीड़ित लड़की की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि आरोपी ने कालामसेरी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दम तोड़ दिया.

लड़की के पिता ने उसे बचाने की कोशिश की. बेटी को बचाने के दौरान उसके पिता भी झुलस गए. उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया. घटना के बाद लड़की की मां सदमे की में हैं. रोने की आवाज सुनने के बाद पड़ोसियों ने पुलिस को सूचित किया.

इस मामले की जांच कर रहे इन्फोपार्क पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर ने कहा कि युवक अक्सर लड़की के साथ छेड़छाड़ करता था. कुछ दिन पहले ही उसने ट्यूशन क्लास में लड़की के साथ बदतमीजी की थी. उस वक्त लड़की की मां ने उसे किसी तरह बचाकर घर लाया था. आपको बता दें कि केरल में पिछले आठ महीनों में महिला को आग लगाने की यह चौथी घटना है.