नई दिल्ली: संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने आज पूर्व प्रधानमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह से मुलाकात की और संसद के आगामी मानसून सत्र को सुचारू रूप से चलाने के लिये उनकी पार्टी का सहयोग मांगा. संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई से शुरू हो रहा है और यह 10 अगस्त को समाप्त होगा. सत्र के दौरान सरकार के एजेंडे में तीन तलाक से जुड़़े विधेयक समेत कई अन्य महत्वपूर्ण विधायी कार्य हैं. Also Read - लंबी नाराजगी के बाद सचिन पायलट की घर वापसी तय, सोनिया गांधी ने समस्याओं के समाधान को बनाई कमेटी

लोकसभा में 68 व राज्यसभा में 40 विधेयक लंबित
इस बारे में पूछे जाने पर  केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि, सत्र के दौरान विपक्ष का सहयोग महत्वपूर्ण होता है. मानसून सत्र के दौरान 18 बैठकें होंगी. लोकसभा में 68 विधेयक और राज्यसभा में 40 विधेयक लंबित हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने मनमोहन सिंह से मुलाकात कर संसद के आगामी मानसून सत्र को सुचारू रूप से चलाने के लिये कांग्रेस का सहयोग मांगा है. Also Read - सचिन पायलट खेमे के विधायकों के बदले सुर, कहा- अशोक गहलोत ही मेरे राजनीतिक गुरु

मनमोहन सिंह ने सरकार की पहल का स्वागत किया
संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने कहा कि मनमोहन सिंह ने विपक्षी दलों तक पहुंच बनाने के लिये सरकार की पहल का स्वागत किया और कहा कि संसद को ठीक ढंग से चलाने की जिम्मेदारी सत्तारूढ़ और विपक्षी दलों दोनों की है. संसदीय कार्य राज्य मंत्री ने कहा कि संसद के बजट सत्र में कामकाज नहीं हो पाया था. लोकसभा की उत्पादकता 4 प्रतिशत और राज्यसभा की 8 प्रतिशत रही थी. उन्होंने कहा कि यह समय आरोप प्रत्यारोप का नहीं है बल्कि सत्र के दौरान अधिक से अधिक कामकाज सुनिश्चित करने के बारे में ध्यान देने का है. गोयल ने कहा कि वह विपक्ष के अन्य नेताओं से भी मिलेंगे और उनका सहयोग मांगेंगे. (इनपुट एजेंसी ) Also Read - दानिश कनेरिया को है अयोध्‍या में राम मंदिर बनने का इंतजार, भगवान राम का बुलावा आया तो जरूर आउंगा