विशाखापत्तनम: सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड ने उसके परिसर में हुए क्रेन हादसे में मरने वाले सभी लोगों के परिजन को 50-50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा रविवार को की. इस मामले की फिलहाल जांच चल रही है. Also Read - Covid Center Fire Incident: आग लगने से 10 कोरोना मरीजों की मौत, सरकार ने 50-50 लाख मुआवजे का किया ऐलान

पुलिस और अधिकारियों का कहना है कि शनिवार को हुए हादसे में मरने वालों की संख्या 11 बतायी गई, लेकिन यह वास्तव में 10 हो सकती है, क्योंकि अभी तक इतने ही शव बरामद हुए हैं. उनका कहना है कि कितने लोग की मौत हुई है, इसका पता पूरा मलबा हटने के बाद ही चलेगा. Also Read - Fire breaks out at Covid19 Center: विजयवाड़ा के कोविड सेंटर होटल में लगी भीषण आग, सात लोगों की मौत, पहुंचे दमकलकर्मी

एचएसएल के अतिरिक्त महाप्रबंधक लेफ्टिनेंट कर्नल (अवकाश प्राप्त) संदीप परीजा ने रविवार को बताया, ‘‘हमने मलबे से) एक कटा हुआ हाथ बरामद किया है, लेकिन वहां कोई शव नहीं मिला है. मलबा हटाने का काम अभी भी चल रहा है.’’ Also Read - क्रेन दुर्घटना में मारे गए पीड़ित के अंतिम संस्कार में जाते वक्त हुआ सड़क हादसा, 3 लोगों की मौत

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हादसे के तुरंत बाद शनिवार को 10 शव बरामद किए गए, एक का सिर्फ कुछ हिस्सा ही मिला है. हादसे में मरे 10 लोग में से नौ विशाखापत्तनम जिले के थे जबकि एक तेलंगाना का था. हादसे के वक्त इस क्रेन के भीतर मौजूद सभी लोगों की मौत हो गई. दुर्घटना की वजह का अभी तक पता नहीं चला है.

(इनपुटः भाषा)