One Nation One Ration Card: केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ योजना को मोदी सरकार की दूसरी पारी की महत्वपूर्ण उपलब्धि बताया है. मोदी सरकार की दूसरी पारी के एक साल पूरे होने पर शनिवार को पासवान ने कहा, “एनएफएसए (राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम) के 81 करोड़ लाभार्थियों को देशभर में कहीं से भी राशन प्राप्त करने की सुविधा मुहैया कराने वाली महžवाकांक्षी योजना ‘वन नेशन वन राशनकार्ड’ मोदी 2.0 सरकार की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है.”Also Read - Delhi CM अरविंद केजरीवाल राम लला के दर्शन के लिए जाएंगे अयोध्‍या

पासवान ने बताया कि आगामी एक जून तक देशभर में 20 राज्य व केंद्र शासित प्रदेश इस योजना से जुड़ जाएंगे और मार्च 2021 तक यह देशभर में लागू हो जाएगी. केंद्रीय मंत्री पासवान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रभावी मार्गदर्शन और कुशल नेतृत्व में मोदी 2.0 सरकार के पहले एक वर्ष के दौरान उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने अभूतपूर्व उपलब्धियां हासिल की हैं और इस दौरान लोकहित में अनेक ऐतिहासिक फैसले लिए गए हैं. Also Read - प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, 'यूपी में कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों का पूरा कर्ज माफ होगा'

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के इस कठिन समय में देश में कहीं कोई भूखा न रहे इसके लिए सरकार ने कोरोना संकट के इस कठिन समय में देश में कोई भूखा न रहे इसके लिए सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 81 करोड़ एनएफएसए के लाभार्थियों को मुफ्त अनाज देने का प्रावधान किया. प्रत्येक लाभार्थी को इस योजना के तहत 5 किलो अनाज और प्रति परिवार एक किलो दाल हर महीने अप्रैल से लेकर जून तक देने का प्रावधान है. Also Read - UP Government New Scheme: अब सीधे अभिभावकों के खाते में पैसे भेजेगी यूपी सरकार, जानिए क्या है छात्रों के लिए नई स्कीम

पासवान ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान हर राज्य को इस योजना के तहत मुफत राशन वितरण के लिए अनाज मुहैया करवाना चुनौती थी मगर कहीं किसी को राशन की कमी नहीं हुई है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए आवश्यक फेस मास्क और सेनेटाइजर की खुदरा कीमतें तय की गईं और सेनेटाइजर का उत्पादन बढ़ाने के लिए 165 डिस्टीलरी और 962 स्वतंत्र उत्पादकों को हैंड सेनेटाइजर उत्पादन के लाइसेंस जारी किए गए.

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल को शनिवार को एक साल पूरा हुआ. बीते एक साल के दौरान उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की नई पहलों का जिक्र करते हुए पासवान ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरो यानी बीआईएस ने देश के 21 राज्यों की राजधानियों के अलावा 100 स्मार्ट सिटी में नल के माध्यम से आपूर्ति होने वाले पीने का पानी की गुणवत्ता की जांच की है और बीआईएस द्वारा पानी के लिए तय मानक को देशभर में अनिवार्य करने की प्रक्रिया शुरू की गई है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने 15 जनवरी 2020 को स्वर्ण आभूषणों पर 100 : हॉलमार्किं ग अनिवार्य करने की अधिसूचना जारी करते हुए आभूषण निर्माताओं को अपने बिना हॉलमार्क वाले स्टॉक को क्लियर करने के लिए एक वर्ष का समय दिया है. उन्होंने कहा कि 15 जनवरी 2021 से बिना हॉलमार्क का सोना का कोई आभूषण नहीं बिकेगा.