नई दिल्ली: आर्थिक पैकेज (Economic Package) की घोषणा के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पैकेज कैसे खर्च किया जाएगा, ये बताया है. वहीं, इसे लेकर पी. चिदम्बरम ने निर्मला सीतारमण और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. पी. चिदम्बरम ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गरीबों के लिए कुछ नहीं कहा. ये कड़ी मेहनत करने वालों पर कुठाराघात है.Also Read - Budget 2022: यूनियन बजट के बारे में रोचक तथ्य, जो आपको जानना है जरूरी

पूर्व वित्त मंत्री चिदम्बरम ने कहा कि एमएसएमई क्षेत्र के लिए घोषित मामूली पैकेज को छोड़कर हम वित्त मंत्री की घोषणाओं से निराश हैं. यह हर दिन कड़ी मेहनत करने वालों पर कुठाराघात है. वित्त मंत्री ने जो कुछ कहा, उसमें लाखों गरीबों, भूखे प्रवासी श्रमिकों के लिए कुछ नहीं है जो पैदल चलकर अपने घर जा रहे हैं. Also Read - Cryptocurrency in India: भारत में क्रिप्टोकरेंसी का क्या होगा भविष्य, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- सरकार इसे लेकर...

उन्होंने कहा कि होना ये चाहिए था कि लोगों के खातों में सीधे पैसा डालना चाहिए था. करोड़ों परिवार ऐसे हैं, जिन्हें सख्त ज़रूरत है. कांग्रेस नेता ने कहा कि बहुत लोगों की नौकरियां चली गई हैं और श्रमिकों ने शहर छोड़ दिए हैं. वह पैदल ही घरों को जा रहे हैं. ऐसे में उन्हें मदद की ज़रूरत थी, लेकिन अब तक ऐसा कुछ नहीं कहा और किया गया जिससे ऐसे लोगों को राहत मिले. Also Read - Bitcoin: लोकसभा में वित्तमंत्री ने दिया लिखित जवाब, बिटक्वॉइन को करेंसी माने जाने के लिए कोई प्रस्ताव नहीं

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने एक दिन पहले ही 20 लाख के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था. इसके बाद आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पैकेज कैसे खर्च होगा, इसकी जानकारी दी है. इसमें छोटे उद्योगों को राहत का ऐलान किया गया है.