नई दिल्ली: प्रदूषण नियंत्रण की सारी कवायदें फेल होने के बाद दिल्ली एनसीआर क्षेत्र की हवा में लगातार ख़राब होती गुणवत्ता को ठीक करने के लिए सरकार अब सख़्त रूख अपनाते हुए वायु प्रदूषण मानकों का उल्लंघन करने वालों के ख़िलाफ़ आपराधिक मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी. ऐसा पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा.

जहरीली हुई दिल्ली NCR की हवा, सांस लेना हुआ दूभर, ये है ताजा हाल

पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री हर्षवर्धन ने शनिवार को एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण की स्थिति की समीक्षा बैठक के बाद यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि हवा की गुणवत्ता में अपेक्षित सुधार नहीं होने पर केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के सुझाव पर यह फ़ैसला किया गया है. वहीँ उन्होंने लोगों से भी पर्यावरण संतुलन में सहयोग देने की भी अपील की है उन्होंने ट्वीट कर कहा अपशिष्ट पदार्थ न जलाएं, इनसे पैदा होने वाले जहरीले तत्व वायुमंडल को जहरीला बनाते हैं, इस आदत में सुधर करें.

यूपी के मंत्री का बड़ा हमला, कहा- मैं भाजपा का गुलाम नहीं, इस्‍तीफा देने का मन बनाकर आया हूं

बैठक में सीपीसीबी के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के अलावा एनसीआर के चार शहरों नोएडा, ग़ाज़ियाबाद, फ़रीदाबाद और गुरुग्राम में पिछले एक महीने में स्थिति को सुधारने के लिए किए गए उपाय नाकाफ़ी साबित हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि अब सीपीसीबी के 41 के बजाय 50 निगरानी दल सप्ताह में दो दिन के बजाय कम से कम पांच दिन इन शहरों में औचक निरीक्षण निरीक्षण करेंगे. नियमों का पालन नहीं करने वालों के ख़िलाफ़ आपराधिक मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी. (इनपुट एजेंसी)