श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में बारामूला जिले के सोपोर इलाके में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में रविवार सुबह दो पाकिस्तानी नागरिक समेत लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गये. ये पाकिस्तानी नागरिक हाल में सुरक्षाबलों पर हुए हमले में शामिल थे. पुलिस ने यह जानकारी दी. Also Read - जीसी मुर्मू देश के नए CAG नियुक्त, एक दिन पहले ही छोड़ा था उप राज्यपाल का पद

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सोपोर शहर के रेबन इलाके में शनिवार मध्यरात्रि के आसपास घेराबंदी की और तलाश अभियान चलाया. उन्होंने कहा कि आतंकियों की मौजूदगी का पता चलने के बाद उन्हें समर्पण का अवसर दिया गया. हालांकि उन्होंने तलाशी दल पर गोलीबारी शुरू कर दी जिसके जवाब में सुरक्षा बलों ने भी कार्रवाई की. Also Read - जम्मू-कश्मीर में नए आतंकियों का जीवन काल अब सिर्फ 1 से 90 दिन: डीजीपी

अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए. पुलिस ने बताया कि मारे गए दो आतंकवादियों की पहचान अबु राफिया उर्फ उस्मान और सैफुल्लाह के रूप में हुई. दोनों पाकिस्तानी नागरिक हैं. उन्होंने बताया कि मारे गए तीसरे आतंकी की फिलहाल पहचान नहीं हो सकी है. Also Read - आर्मी चीफ यात्रा पर, चीनी बॉर्डर पर मौजूदा तनाव से निपटने और सेना की तैनाती का लेंगे जायजा

पुलिस के मुताबिक, राफिया 2016 से घाटी में सक्रिय था. वह और सैफुल्लाह कई आतंकी हमलों में शामिल थे. उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार एवं गोलाबारूद बरामद किये गये हैं. पुलिस ने बताया कि मारे गये दो आतंकवादी एक जुलाई को सोपोर में सुरक्षाबलों पर हमले में शामिल थे.

सोपोर हमले में सीआरपीएफ के एक जवान और एक नागरिक की जान चली गयी थी. पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने पुलिस और सुरक्षा बलों को इस ‘बडी कामयाबी’ के लिए बधाई दी.