तिरूपति: भारत के मंदिरों में सबसे ज्यादा दान पाने वाले विश्वविख्यात तिरूपति तिरूमाला में भगवान वेंकटेश्वर मंदिर में पांच सौ और 1 हजार रुपये के बंद हो चुके पुराने नोटों के रूप में करीब 25 करोड़ रूपये जमा हो गए हैं. मंदिर के एक अधिकारी ने बताया कि श्रद्धालुओं ने दान पत्र में 1,000 और 500 रूपये के पुराने नोट डाले हैं जोकि अब चलन में नहीं है. Also Read - COVID-19: तिरुपति मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद, भक्तों को भेजा गया वापस

8 नवंबर 2016 को जब केन्द्र सरकार ने पांच सौ और एक हजार रुपये के पुराने नोटों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी उसके कुछ महीनों बाद में ही दान के रूप में मंदिर में इतना धन इकट्ठा हो गया है. पहाड़ी मंदिर तिरूमाला तिरूपति देवस्थानम (टीटीडी) के अतिरिक्त वित्त सलाहकार और मुख्य एकाउंट अधिकारी ओ बालाजी ने बताया कि श्रद्धालुओं के नकदी चढ़ाने से जुड़ी भावनाओं को ध्यान में रखते हुये टीटीडी ने नोट बदलने के लिए आरबीआई को पत्र लिखा है और वो अभी तक एक ‘सकारात्मक जवाब’ का इंतजार कर रहे हैं Also Read - तिरुमला तिरुपति देवस्थानम के 12,000 करोड़ रुपए से ज्‍यादा बैंकों में फिक्‍स डिपाजिट