नई दिल्ली. बंगाल की खाड़ी से पिछले दिनों उठे चक्रवाती तूफान तितली के थमने के बाद सक्रिय हुये उत्तर पूर्वी मानसून अगले 24 घंटों में दक्षिणी राज्यों में सक्रिय हो जायेगा. मौसम विभाग के अनुसार तितली की वजह से ठिठका उत्तर पूर्वी मानसून दक्षिणी प्रायदीप में तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीमा, तमिलनाडु, केरल और दक्षिणी कर्नाटक के भीतरी इलाकों में शनिवार से सक्रिय हो जाएगा. विभाग ने मानसून के कारण इन इलाकों में भारी बारिश की संभावना जतायी है. Also Read - दुर्गा पूजा के बीच तितली की दस्तक, ममता बनर्जी ने कहा- आपदा से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार

विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अक्तूबर के पहले सप्ताह में दक्षिण पश्चिम मानसून की वापसी के बाद बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान तितली के कारण उत्तर पूर्वी मानसून ठिठक गया था. तितली की गति थमने के बाद अनुकूल परिस्थितियों को देखते हुये अब उत्तर पूर्वी मानसून सक्रिय हुआ है. Also Read - यात्रीगण कृपया ध्यान दें! रेलवे ने छह ट्रेनें रद्द कीं, कई का समय बदला

5 दक्षिणी राज्यों में बारिश
हर साल अक्तूबर से दिसंबर तक सक्रिय रहने वाले उत्तर पूर्वी मानसून के कारण पांच दक्षिणी राज्यों में बारिश होती है. यह मानसून दक्षिण पश्चिम मानसून के दौरान बारिश की कमी को पूरा करता है. मौसम विभाग ने इस साल उत्तर पूर्वी मानसून के दौरान दक्षिणी प्रायदीपीय इलाकों में सामान्य बारिश होने की संभावना जतायी है. विभाग ने शनिवार और रविवार को तमिलनाडु, पुदुचेरी, तटीय कर्नाटक, केरल और अंडमान निकोबार द्वीप समूह के कुछ इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. Also Read - ‘तितली’ ने आंध्र प्रदेश में 9 लोगों की जान ली, तटीय इलाकों में जीवन प्रभावित