कोलकाता: एग्जिट पोल के पूर्वानुमान से नाराज तृणमूल कांग्रेस अब जिलों से मिली रिपोर्ट के आधार पर चुनाव के बाद के गुणा-भाग में जुट गई है. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने सोमवार को एग्जिट पोल के पूर्वानुमानों को नकारते हुए कहा, हमें एग्जिट पोल रिपोर्ट की चिंता करने की जरूरत नहीं है, जो अधिकतर मामलों में ठीक नहीं होते.

टीएमसी के सीनियर ने कहा, हमें आंतरिक रिपोर्ट मिली है. हमें जिलों और हर निर्वाचन क्षेत्र से रिपोर्ट मिली है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि तृणमूल नेतृत्व देश में विभिन्न विपक्षी दलों के साथ भी संपर्क में है.

तृणमूल के एक अन्य वरिष्ठ नेता ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर कहा, ये अधिकतर एग्जिट पोल निराधार हैं और भाजपा का समर्थन करते हैं. हमें एग्जिट पोल की कोई चिंता नहीं है. चुनाव के बाद के परिदृश्य को लेकर भी सभी विपक्षी दलों के साथ बातचीत जारी है. उन्होंने कहा, निश्चित तौर पर भाजपा की हार होगी. तृणमूल महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी.

एग्जिट पोल अंतिम परिणाम नहीं, लेकिन भाजपा की जीत का संकेत देते हैं: नितिन गडकरी

तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू भी सोमवार को तृणमूल सुप्रीमो एवं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे. नायडू पिछले कई दिनों से क्षेत्रीय और विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठकें कर रहे हैं.

दूसरी ओर, कुछ एग्जिट पोल ने पश्चिम बंगाल में तृणमूल को 24, भाजपा को 16, कांग्रेस को दो सीटें दी हैं. वहीं वाम मोर्चे के वहां खाता भी नहीं खोल पाने का पूर्वानुमान है.