भोपाल। लोकसभा और विधानसभा उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी को मिली करारी हार के बीच गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि लंबी छलांग लगाने के लिए दो कदम पीछे भी जाना पड़ता है. अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले 11 विधानसभा और चार लोकसभा सीटों के उपचुनाव के नतीजों पर भाजपा के खराब प्रदर्शन पर पूछे गये सवाल के जवाब में राजनाथ ने विनोदपूर्ण लहजे में कहा कि लंबी छलांग लगाने के लिए दो कदम पीछे जाना पड़ता है. हम आगे लंबी छलांग लगाएंगे. Also Read - यूपी: लखनऊ में राजनाथ सिंह की गुमशुदी के पोस्टर लगाए, सपा के 2 कार्यकर्ता अरेस्ट

जिस वक्त भाजपा लोकसभा और विधानसभा उपचुनावों में हार का सामना कर रही थी, उस वक्त राजनाथ एनडीए सरकार की पिछले चार साल की उपलब्धियों को बताने के लिए भोपाल में संवाददाता सम्मेलन कर रहे थे. इन दिनों बीजेपी नेता और मंत्री जनता के बीच एनडीए सरकार के 4 साल का लेखाजोखा पेश कर रहे हैं.

उपचुनाव नतीजों में बीजेपी को करारा झटका, विपक्ष ने 14 में से 11 सीटों पर जमाया कब्जा

भाजपा को उत्तरप्रदेश की कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा सीट के साथ-साथ महाराष्ट्र की भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में हार का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि, महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट पर भाजपा ने जीत दर्ज कर ली है. इसके अलावा भाजपा को झारखंड, पंजाब, कर्नाटक, यूपी की नूरपुर विधानसभा उपचुनावों में हार का सामना करना पड़ा है. हालांकि उसने उत्तराखंड की थराली सीट जीती है.

बीजेपी ने महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट पर दोबारा कब्जा जमाया है. जहां से राजेंद्र गावित ने जीत दर्ज की है. जबकि इसी राज्य से दूसरी सीट भंडारा-गोंदिया पर एनसीपी उम्मीदवार जीता. नागालैंड में लोकसभा उपचुनाव सीट बीजेपी की सहयोगी एनडीपीपी के पक्ष में गई है. जबकि सबसे महत्वपूर्ण यूपी की कैराना लोकसभा सीट बीजेपी ने गंवा दी है. ये सीट बीजेपी सांसद रहे हुकुम सिंह के निधन से खाली हुई थी. बीजेपी ने उनकी बेची मृगांका सिंह को टिकट दिया था. महाराष्ट्र की दोनों लोकसभा सीटें भी बीजेपी के ही कब्जे में थीं.