Tractor Rally Violence: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने ट्रैक्टर रैली में हिंसा के मामले में कई किसान नेताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया है. इस मुकदमे में भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) का भी नाम है. किसान नेता राकेश टिकैत के खिलाफ एफआईआर हुई है. राकेश टिकैत के साथ ही किसान नेता दर्शन पाल, राजिंदर सिंह, बलबीर सिंह राजेवल, बूटा सिंह बुर्जगिल, जोगिंदर सिंह उगराहा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. ये सभी किसान नेता कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं.Also Read - दिल्लीवालों के लिए FIR करना हुआ आसान, अब घर बैठे कर सकते हैं चोरी और सेंधमारी की शिकायत, जानें कैसे?

ये एफआईआर दिल्ली पुलिस ने दर्ज की है. दिल्ली पुलिस के अनुसार राकेश टिकैत सहित 6 किसान नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. वहीं, इस मामले को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी किया है. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि किसानों, मजदूरों के खिलाफ ये बड़ी साजिश है. संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) ने कहा कि हमारा आंदोलन शांतिपूर्वक चल रहा था. जिन लोगों ने हिंसा की है, वो हमारे साथ के लोग नहीं हैं. Also Read - Republic Day Parade 2022: High Tech सुरक्षा के घेरे में दिल्ली | ज़मीन से आसमान तक रखी जा रही नजर

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड़ में हुई हिंसा मामले में 200 लोगों को हिरासत में लिया है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि जल्‍द ही और भी लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी. Also Read - Republic Day parade में शामिल होने वालों के लिए दिल्ली पुलिस ने जारी की गाइडलाइंस, इन नियमों का करना होगा पालन