अगरतला: त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने सोमवार को आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल के विधायक देवेंद्र नाथ रे को इसलिए ‘मार डाला गया’ क्योंकि वह पिछले साल भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे. देब ने ट्वीट कर कहा, “हेमताबाद से भाजपा विधायक श्री देवेन्द्र नाथ रे का पार्थिव शरीर उत्तर दिनाजपुर में बिंदल में उनके गांव के घर के पास लटका पाया गया. Also Read - लॉकडाउन के बीच राम मंदिर जश्न को लेकर पश्चिम बंगाल में कुछ जगह झड़प

त्रिपुरा सीएम ने कहा कि लोगों का स्पष्ट मानना है कि पहले उनकी हत्या की गई और फिर लटका दिया गया. उनका अपराध? वह 2019 में भाजपा में शामिल हो गए थे.” Also Read - पश्चिम बंगाल में नक्सली हमला, सहारनपुर जिले के बीएसएफ जवान की मौत

65 वर्षीय विधायक को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से लगभग 454 किलोमीटर दूर, उनके गांव में एक स्थानीय बाजार के पास अपने घर से कुछ मीटर की दूरी पर सोमवार सुबह रहस्यमय तरीके से लटका पाया गया था. रे 2019 में भाजपा में शामिल हुए थे. इससे पहले, वह 2016 में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के टिकट पर राज्य विधानसभा के लिए चुने गए थे. Also Read - पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन की तारीखों में दूसरी बार हुआ बदलाव, जानिए क्या है राज्य सरकार का नया प्लान

बीजेपी का आरोप है कि बीजेपी के लोगों को लगातार मारा जा रहा है. इस बीच बीजेपी नेताओं ने विधायक की मौत के मामले में राष्ट्रपति से मिलने का फैसला किया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से बीजेपी नेता कल मिलेंगे.